ताज़ा खबर
 

ट्रैक पर चार घंटे रुकी रही नई दिल्ली-कालका शताब्दी, ट्विटर पर फूटा यात्रियों का गुस्सा

ट्रेन शाम आठ बजकर 40 मिनट पर चंडीगढ़ पहुंचनी थी। लेकिन गन्नौर, भोडवाल माजरी और समालखा पर रुकने से यह निर्धारित समय पर नहीं पहुंच सकी।
शताब्दी एक्सप्रेस (फाइल फोटो)

कालका-दिल्ली शताब्दी ट्रेन रविवार को चार घंटे सबवे निर्माण के चलते ट्रेन तीन अलग-अलग जगहों पर रुकी रही। लोगों ने इस दौरान जमकर अपना गुस्सा ट्विटर पर निकाला। झल्लाए यात्री #KalkaShatabdi लिख कर अपनी परेशानी साझा कर रहे थे। उन्होंने इस दौरान रेल मंत्री को भी टैग किया। ट्रेन शाम आठ बजकर 40 मिनट पर चंडीगढ़ पहुंचनी थी। लेकिन गन्नौर, भोडवाल माजरी और समालखा पर रुकने की वजह से यह अपने निर्धारित समय पर नहीं पहुंच सकी। दरअसल, हरियाणा के घरौंदा और बाबतपुर में सबवे बन रहा है। ट्रेन जब समालखा पर खड़ी थी, तब उत्तर रेलवे के अधिकारियों ने बताया था कि चंडीगढ़ लाइन साढ़े ग्यारह बजे तक क्लियर होगी, जिसके बाद ही ट्रेन चलेगी। उन्होंने देर रात एक बजे तक उसके गंतव्य तक पहुंचने की संभावना जताई थी।

उत्तरी रेलवे के सीपीआरओ नीरज शर्मा ने इस बाबत बताया कि पानीपत और दीवाना के बीच सबवे का काम पूरा हो गया है, लेकिन घरौंदा में यह अभी भी चल रहा है। फिर क्या था, ट्विटर पर लोगों ने #KalkaShatabdi लिखकर अपना दर्द बयान करना शुरू किया और रेल मंत्री पीयूष गोयल के साथ उसमें डिविजनल रेलवे मैनेजर को भी टैग किया।

हालांकि, आला-अधिकारियों की ओर से किसी प्रकार का अपडेट नहीं मिला। अंबाला डिविजन के नए डीआरएम दिनेश कुमार ने कहा कि कुछ काम चल रहा था, जिसकी वजह से ट्रेन को देरी हुई। दिल्ली डिविजन, चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन या फिर वेबसाइट पर ट्रेन के बारे में अपडेट्स होंगी। जसवीर चहल नाम के एक यात्री ने माइक्रो ब्लॉगिंग साइट पर लिखा कि मैंने कभी भी शताब्दी से सफर नहीं किया, जो कि चार घंटे देर से पहुंचती है। हमें इसमें पानी तक नहीं सर्व किया गया।

[jwplayer amBd84hk-gkfBj45V]

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.