ताज़ा खबर
 

कैफ‍ियत एक्‍सप्रेस हादसा: इंजन समेत 12 डिब्‍बे बेपटरी होने से 78 घायल, शताब्‍दी समेत 12 ट्रेनें कैंसिल

उत्तर प्रदेश में कानपुर और इटावा के बीच औरैया जिले में अछल्दा स्टेशन के पास बुधवार तड़के आजमगढ़ से दिल्ली जा रही 12225 (अप) कैफियत एक्सप्रेस डंपर से टकराने के बाद दुर्घटनाग्रस्त हो गई, जिसके बाद ट्रेन के 12 डिब्बे पटरी से उतर गए।

Author ओरई | August 23, 2017 11:10 am

उत्तर प्रदेश में कानपुर और इटावा के बीच औरैया जिले में अछल्दा स्टेशन के पास बुधवार तड़के आजमगढ़ से दिल्ली जा रही 12225 (अप) कैफियत एक्सप्रेस डंपर से टकराने के बाद दुर्घटनाग्रस्त हो गई, जिसके बाद ट्रेन के 12 डिब्बे पटरी से उतर गए। इस हादसे में 78 लोग घायल हो गए हैं। अपर पुलिस महानिदेश (कानून व्यवस्था) आनंद कुमार ने आईएएनएस को बताया कि इस हादसे में 78 लोग घायल हैं, जिनमें चार की हालत गंभीर है। इस हादसे के बाद कानपुर शताब्दी सहित 12 ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है और राजधानी सहित सभी 51 ट्रेनों के रूट बदल दिए गए हैं। दिल्ली-हावड़ा रूट पूरी तरह बाधित हो गया। राजधानी एक्सप्रेस और गोमती एक्सप्रेस का मार्ग बदला गया है। रेलवे के जनसंपर्क अधिकारी अनिल सक्सेना ने बताया कि दुर्घटना की वजह से ट्रेन के इंजन सहित 12 डिब्बे पटरी से उतर गए। इस हादसे में 78 लोगों के घायल होने की सूचना है।

उन्होंने बताया कि हादसे की सूचना मिलते ही रेलवे के अफसर मौके पर पहुंचे। यह घटना तड़के करीब 2.50 बजे हुई। रेलवे कंट्रोल रूम ने घटना की पुष्टि के साथ ही राहत एवं बचाव कार्य शुरू होने का दावा किया है। घायलों को आसपास के अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। सूत्रों के अनुसार, ट्रैक के पास फ्रंट कॉरिडोर का काम चल रहा था। इसी के काम में लगा डंपर मानव रहित क्रासिंग पर ट्रेन से टकरा गया।

हादसे की सूचना पर सैफई मेडिकल यूनिवर्सिटी में कुलपति डॉक्टर ब्रिगेडियर टी प्रभाकर ने सभी डॉक्टरों को अलर्ट कर दिया है। घायलों को इलाज के लिए यहां लाया जा रहा है। एसडीएम सैफई व सीओ सैफई मेडिकल यूनिवर्सिटी के ट्रॉमा सेंटर और इमरजेंसी में मौजूद हैं। गौरतलब है कि अभी शनिवार को ही पुरी से हरिद्वार जाने वाली उत्कल एक्सप्रेस मुजफ्फरनगर के पास पटरी से उतर गई थी, जिसमें 21 लोगों की मौत हो गई, जबकि 156 लोग घायल हो गए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App