सोनिया-रॉबर्ट का जिक्र कर जब सिंधिया से दो टूक बोले थे रजत शर्मा- जिनके घर शीशे के होते हैं, वो दूसरों के यहां पत्थर नहीं मारते

कभी कांग्रेस में युवा चेहरा रहे ज्योतिरादित्य सिंधिया का एक वीडियो फिर से वायरल हो रहा है। सिंधिया रजत शर्मा के शो ‘आप की अदालत’ में गेस्ट बनकर आए थे जहां उन्हें ऐंकर के तीखे सवालों का सामना करना पड़ा था।

ज्योतिरादित्य सिंधिया, आपकी अदालत
आपकी अदालत में ज्योतिरादित्य सिंधिया (फोटो- Screenshot from aap ki adalat)

एक समय में कांग्रेस नेता राहुल गांधी के खासम-खास रहे ज्योतिरादित्य सिंधिया हमेशा चर्चाओं में बने रहते हैं। जब कांग्रेस में थे तब भी और आज जब बीजेपी में है तब भी। सिंधिया का एक वीडियो फिर से वायरल हो रहा है।

 

ये वीडियो है रजत शर्मा के शो आपकी अदालत का, जब सिंधिया कांग्रेस नेता के तौर पर रजत के शो में पहुंचे थे। एक सवाल-जवाब के बीच, जब रजत शर्मा ने कांग्रेस पर तंज कसते हुए अभिनेता राजकुमार का फेमस डॉयलॉग “जिनके घर शीशे के बने होते हैं वो दूसरों पर पत्थर नहीं मारते हैं।” कहा तो स्टूडियो ठहाकों की आवाज से गूंज उठा। शो में रजत शर्मा उन्हें राबर्ट वाड्रा के नाम से नहीं डरने के लिए कहते दिख रहे हैं। इसके बाद सिंधिया मुस्कुराते हुए अपना बचाव करने में जुट जाते हैं।

दरअसल रजत शर्मा अपने शो में रॉबर्ट वाड्रा के जमीन विवाद से संबंधित सवाल पूछ रहे थे। एंकर ने हरियाणा की उस जमीन की खरीद-बिक्री पर सवाल किया था जिसमें रॉबर्ट वाड्रा को करोड़ों का फायदा हुआ था। एंकर के सवाल पर सिंधिया सौदे को पाक-साफ बताते हुए जांच की बात कहते हैं जिसपर रजत शर्मा ने राजकुमार का ये डॉयलॉग कहा था।

एंकर के अनुसार कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के दामाद और राहुल गांधी के बहनोई रॉबर्ड वाड्रा ने हरियाणा में कांग्रेस की सरकार के दौरान 3.5 एकड़ जमीन अंडर डेवलप प्लॉट के रूप में खरीदी थी। 18 दिन के अंदर हुड्डा सरकार ने इसे कमर्शियल जमीन में बदलने की अनुमति दे दी। इसके बाद वाड्रा ने इस जमीन को एक दूसरी कंपनी को बेच दी। वाड्रा ने जमीन के ऊपर हजार रुपये लगाए थे और उनको इस डील के बाद करोड़ों रुपये मिल गए। रजत की इन बातों के बाद सिंधिया कुछ देर चुप रहे और फिर से जांच करने का तर्क देते हुए अपना और कांग्रेस का बचाव करने लगे।

 

बता दें कि ज्योतिरादित्य सिंधिया एक समय में राहुल के खास थे और कांग्रेस के भविष्य माने जाते रहे थे। मार्च 2020 में सिंधिया ने मध्यप्रदेश में कमलनाथ सरकार को गिराते हुए, कांग्रेस छोड़ बीजेपी में शामिल हो गए और आज वो केंद्रीय मंत्री हैं।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।