ताज़ा खबर
 

ट्रूडो ने स्वर्ण मंदिर में माथा टेका और लंगर में रोटियां बनार्इं

भारत की यात्रा पर आए कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन त्रुदू ने बुधवार को स्वर्ण मंदिर में मत्था टेका और वहां लंगर में रोटिया सेंकीं। उन्हें वहां सम्मानित किया गया। प्रधानमंत्री करीब एक घंटा तक मंदिर में रहे।

Author चंडीगढ़ | February 22, 2018 12:40 AM
अमृतसर के गुरुद्वारे में रोटी बनाते ट्रूडो और उनकी बीबी

भारत की यात्रा पर आए कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन त्रुदू ने बुधवार को स्वर्ण मंदिर में मत्था टेका और वहां लंगर में रोटिया सेंकीं। उन्हें वहां सम्मानित किया गया। प्रधानमंत्री करीब एक घंटा तक मंदिर में रहे। दरबार साहिब में सरकार और विपक्ष ने पूरी एकजुटता के साथ उनका स्वागत किया। सिख संगठनों ने भी प्रधानमंत्री के स्वागत में कोई कसर नहीं छोड़ी। जस्टिन त्रुदू बुधवार को विशेष विमान से अमृतसर के हवाई अड्डे पर पहुंचे। वहां केंदीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी और पंजाब के मंत्री नवजोत स्ािंह सिद्धू ने उनका स्वागत किया। उनका काफिला जब श्री दरबार साहिब पहुंचा तो वहां राजनीतिक व धार्मिक समीकरण बदल गए। श्री दरबार साहिब आगमन पर शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के प्रधान गोविंद सिंह लोंगोवाल और शिरोमणि अकाली दल अध्यक्ष सुरबीर बादल ने उनका स्वागत किया। इस दौरान दिल्ली गुरुद्वारा प्रबंधन कमेटी के प्रधान मंजीत सिंह जीके भी मौजूद रहे।

पूरे पंजाबी परिधान में दरबार साहिब पहुंचे त्रुदू परिवार ने यहां माथा टेकने के बाद करीब 10 मिनट तक लंगर हॉल में जाकर न केवल सेवा की, बल्कि एसजीपीसी प्रबंधकों से रोजाना करीब एक लाख श्रद्धालुओं के लिए तैयार होने वाले लंगर के बारे में जानकारी हासिल की। जस्टिन जब दरबार साहिब की परिक्रमा कर रहे थे, तब उन्होंने कई बार पलटकर श्री हरमिंदर साहब का दीदार किया। दरबार सूचना केंद्र में उन्हें व उनके साथ आए मंत्रिमंडल सदस्यों को श्री साहेब और सिरोपा देकर सम्मानित किया गया। कनाडाई प्रधानमंत्री और उनके परिवार ने ‘गुरु रामदास जी लंगर हॉल’ में रोटियां बनाईं। उन्होंने हाथ जोड़कर श्रद्धालुओं का अभिवादन किया। कई श्रद्धालु कनाडाई प्रधानमंत्री के परिवार की तस्वीरें खींच रहे थे।
पंजाब पुलिस के अधिकारियों और एसजीपीसी टास्क फोर्स सेवादारों ने उनकी सुरक्षा के लिए घेरा बना रखा था। उनकी सुरक्षा में कनाडा के सुरक्षा अधिकारी भी शामिल थे।

अपने मंत्रियों और सांसदों के प्रतिनिधिमंडल के साथ त्रुदू जब हवाई अड्डे पर उतरे तो उनके स्वागत में लाल कालीन बिछाई गई। उनकी स्वर्ण मंदिर की यात्रा के दौरान केंद्रीय आवास व शहरी मामलों के मंत्री हरदीप सिंह पुरी भी साथ थे। त्रुदू देश के विभाजन से जुड़े संग्रहालय को भी देखने गए। उनकी यात्रा को देखते हुए नगर में सुरक्षा के सख्त प्रबंध किए गए थे और 1500 से ज्यादा पुलिसकर्मियों की तैनाती की गई थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App