ताज़ा खबर
 

कुपवाड़ा में आतंकवादियों के साथ मुठभेड़ में एक कमांडो शहीद, जारी है एनकाउंटर

जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा में जारी हैं सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़।

Author नई दिल्ली | July 11, 2018 19:44 pm
घाटी में जारी मुठभेड़ में एक कमांडो हुआ शहीद और 4 पैरा कमांडो गंभीर रूप से घायल।

जम्मू – कश्मीर के कुपवाड़ा जिले के जंगल क्षेत्र में आतंकवादियों के साथ मुठभेड़ में आज एक कमांडो कमांडो शहीद हो गया है जबकि अन्य घायल हुए हैं। साथ ही एक जवान की हालत गंभीर बताई जा रही है। सेना के एक अधिकारी ने बताया कि कुपवाड़ा के कांडी वन क्षेत्र में गश्ती दल पर आतंकवादियों ने गोलीबारी की जिसके बाद सुरक्षा बलों ने अभियान की शुरुआत की। उन्होंने कहा कि दोनों पक्षों के बीच गोलीबारी शुरू हो गई है। घायल जवानों को सेना के अस्पताल में पहुंचाया गया है। उन्होंने कहा कि अंतिम खबर मिलने तक अभियान जारी था।

अधिकारियों ने अलगाववादी नेताओं द्वारा बुलाए गए बंद के मद्देनजर उनके किसी भी तरह के विरोध प्रदर्शन को रोकने के लिए श्रीनगर के कुछ हिस्सों में आज निषेधाज्ञा लागू कर दी।
जम्मू – कश्मीर के शोपियां जिले में प्रदर्शनकारियों पर कथित रूप से सुरक्षा बलों की गोलीबारी में एक असैन्य नागरिक के मारे जाने के खिलाफ इस बंद का आह्वान किया गया है।
पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 144 के तहत पांच थाना क्षेत्रों – खानयार , महाराजगंज , नौहट्टा , साफाकदल और रैनावारी में कानून एवं व्यवस्था बनाए रखने के लिए एहतियातन प्रतिबंध लगाए गए हैं। आपको बता दें कि बंद के चलते घाटी में सामान्य जनजीवन प्रभावित हो गया।

अधिकारी ने बताया कि स्कूल और शैक्षणिक संस्थान बंद रहे जबकि सार्वजनिक परिवहन न मिल पाने के कारण सरकारी दफ्तरों में र्किमयों की उपस्थिति कम दर्ज की गई।
कल शोपियां में हुई मुठभेड़ में जैश – ए – मोहम्मद के दो आतंकवादी मार गिराए गए थे जबकि सुरक्षा बलों से झड़प में एक असैन्य नागरिक की मौत हो गई थी और 20 अन्य को इस दौरान चोटें आईं थीं।

 

वहीं दूसरी ओर झारखंड के जंगलों में भी आज नक्सलियों के साथ मुठभेड़ में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) का एक जवान शहीद हो गया। एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि जिले के डालापानी – गलुडी क्षेत्र में यह मुठभेड़ हुई। शहीद का संबंध सीआरपीएफ की 193 वीं बटालियन से था। अधिकारी के अनुसार सुबह नौ बजे झारखंड पुलिस और सीआरपीएफ की संयुक्त टीम एक संयुक्त अभियान पर निकली थी। उसका मुकाबला नक्सलियों से हुआ और मुठभेड़ छिड़ गई। अधिकारी के मुताबिक अर्धसैनिक बल के कांस्टेबल रैंक के एक जवान को गोली लगी और वह मौके पर ही शहीद हो गया। मुठभेड़ के ब्योरे का इंतजार है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App