रीता बहुगुणा जोशी का घर जलाने के आरोपी जितेंद्र सिंह बबलू भाजपा में शामिल, स्वतंत्रदेव सिंह ने झुककर किया अभिवादन

बहुजन समाज पार्टी के बाहुबली नेता जितेंद्र सिंह बबलू भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गए हैं।

UP, BJP
बाहुबली नेता जितेंद्र सिंह बबलू बीजेपी में शामिल हो गए। (फोटो-ट्विटर)।

अगले साल होने वाले उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले सूबे में नेताओं ने दलबदल की शुरुआत कर दी है। दरअसल, बहुजन समाज पार्टी के बाहुबली नेता जितेंद्र सिंह बबलू भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गए हैं। गौरतलब है कि जितेंद्र सिंह बबलू पर बीजेपी नेत्री रीता बहुगुणा जोशी का घर जलाने का आरोप भी है। मामला तब का है जब रीता बहुगुणा जोशी कांग्रेस में हुआ करती थीं। हैरान कर देने वाली बात ये भी है कि यूपी बीजेपी अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने झुककर अभिवादन करते हुए बाहुबली नेता का पार्टी में स्वागत किया।

बीजेपी ने उन नेताओं की लिस्ट मंगलवार को जारी कि जिन्होंने पार्टी का दामन थामा है। पार्टी में शामिल होने वाले लोगों में आजमगढ़ के लालगंज निवासी पंकज मोहन सोनकर हैं। पंकज कांग्रेस के टिकट से लोकसभा का चुनाव लड़ चुके हैं। लखनऊ के रहने वाले श्याम शंकर तिवारी, गाजियाबाद के मनोज शर्मा और रायबरेली के प्रवेश सिंह भी मायावती की पार्टी छोड़ बीजेपी में आ गए हैं। आगरा की डॉ. बीना लवानियां ने भी बीजेपी की सदस्यता ली है।

कौन हैं जितेंद्र सिंह बबलू: जितेंद्र सिंह बबलू मूल रूप से अयोध्या के रहने वाले हैं। वह बीएसपी के टिकट से विधायक रह चुके हैं। साल 2009 में रीता बहुगुणा जोशी का घर जलाने के मामले में उनके खिलाफ हुसैनगंज थाने में एफआईआर दर्ज की गई थी। जांच के दौरान साल 2011 में बबलू का नाम सामने आया और उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। बाद में उन्हें जमानत पर रिहा कर दिया गया था। इसके बाद 2017 में पुलिस ने इस मामले में आईपीसी की धारा- 307, 147 और 149 भी लगा दीं। जिसके बाद जितेंद्र सिंह को पुलिस फिर गिरफ्तार करने पहुंची। हालांकि उन्हें हाई कोर्ट ने राहत दे दी थी।

बता दें कि इससे पहले मंगलवार को स्वतंत्र देव सिंह ने समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष अखिलेश यादव की प्रस्तावित साइकिल यात्रा पर निशाना साधते हुए कहा कि सपा अब चाहे साइकिल यात्रा निकाले या पैदल यात्रा, जनता उनकी नीति, नीयत और इरादों को ठीक तरह से समझ चुकी है।

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष ने बयान में कहा, ”समाजवादी पार्टी अब चाहे साइकिल यात्रा निकाले या पैदल यात्रा जनता उनकी नीति, नीयत और इरादों को ठीक तरह से समझ चुकी है।”