ताज़ा खबर
 

रिम्स के तीसरे तल्ले पर सीसीटीवी निगरानी में रहेंगे लालू यादव, आने-जानेवालों पर होगी कड़ी नजर, स्टाफ की भी एंट्री नहीं

रिम्स प्रबंधन ने लालू का इलाज करने के लिए डॉक्टरों की एक टीम का गठन किया है। अस्पताल में सुरक्षा के भी पुख्ता इंतजाम किए गए हैं।

लालू यादव नई दिल्ली-रांची राजधानी एक्सप्रेस से उतरे तो राजद कार्यकर्ताओं ने वहां जमकर नारेबाजी की। प्रशासन ने उन्हें प्लेटफॉर्म से व्हील चेयर पर बाहर निकाला और एम्बुलेंस से सीधे रिम्स पहुंचाया।

नई दिल्ली के एम्स से रांची के रिम्स में शिफ्ट कराए गए राजद अध्यक्ष लालू यादव को कार्डियोलॉजी ब्लॉक में भर्ती कराया गया है। इस विभाग के तीसरे तल्ले पर तीन नंबर रूम में लालू को रखा गया है। उनकी सुरक्षा के मद्देनजर रिम्स प्रशासन ने एक दिन पहले ही अहम बैठक की। बैठक में फैसला लिया गया कि कार्डियोलॉजी विभाग में किसी की भी एंट्री नहीं होगी। वहां सीसीटीवी कैमरे से निगरानी की जाएगी और आने-जाने वाले हरेक शख्स पर कड़ी नजर रखी जाएगी। यहां तक कि मेडिकल और पारा मेडिकल स्टाफ भी बिना आईडी कार्ड और बिना काम के लालू के कमरे की तरफ नहीं जा सकेंगे। रिम्स प्रबंधन ने लालू का इलाज करने के लिए डॉक्टरों की एक टीम का गठन किया है। अस्पताल में सुरक्षा के भी पुख्ता इंतजाम किए गए हैं।

इससे पहले जब लालू यादव नई दिल्ली-रांची राजधानी एक्सप्रेस से उतरे तो राजद कार्यकर्ताओं ने वहां जमकर नारेबाजी की। प्रशासन ने उन्हें प्लेटफॉर्म से व्हील चेयर पर बाहर निकाला और एम्बुलेंस से सीधे रिम्स पहुंचाया। एम्बुलेंस में तैनात डॉक्टर ने लालू यादव की जांच की और उन्हें उम्र संबंधी कुछ परेशानियों को छोड़ फिलहाल फिट पाया। बता दें कि एम्स प्रशासन ने लालू यादव का करीब एक महीने तक इलाज करने के बाद उन्हें कल (30 अप्रैल को) डिस्चार्ज कर दिया था। डिस्चार्ज की खबर पाकर लालू यादव ने एम्स निदेशक को खत लिखा था कि वो स्वस्थ नहीं हुए हैं, इसलिए उन्हें रिम्स वापस नहीं भेजा जाय मगर एम्स ने उनकी नहीं सुनी।

चारा घोटाले में सजा काट रहे 70 साल के लालू यादव को सीने में दर्द और बेचैनी की समस्या के बाद 29 मार्च को एम्स में भर्ती कराया गया था। उससे पहले रिम्स में ही उनका इलाज चल रहा था। उन्हें किडनी इन्फेक्शन था और क्रिटनीन बढ़ा हुआ था। इसके अलावा लालू को डायबिटीज, बीपी और हार्ट की भी समस्या है। चारा घोटाले के तीन अलग-अलग मामलों में सजा पाने के बाद लालू पिछले साल 23 दिसंबर से ही रांची की जेल में बंद हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App