ताज़ा खबर
 

झारखंड: पिटाई से मारे गए तबरेज अंसारी के पिता की भी भीड़ ने ही ली थी जान, पुरानी फाइल खंगाल रही पुलिस

करीब सत्तर वर्ष की उम्र के दो बुजुर्गों ने नाम ना छापने की शर्त पर बताया कि तबरेज के पिता को वास्तव में भीड़ द्वारा मारा गया था।

Author नई दिल्ली | June 26, 2019 12:09 PM
झारखंड में कथित तौर पर उन्मादी भीड़ ने 24 वर्षीय तबरेज अंसारी की इतनी पिटाई की गई कि उसने अस्पताल में दम तोड़ दिया। बचपन में ही माता-पिता को खोने के बाद आठ साल पहले तबरेज पुणे चला गया था। (वीडियो स्क्रीन शॉट)

झारखंड के सरायकेला खरसावां में भीड़ की हिंसा का शिकार हुए तबरेज अंसारी के पिता मस्कूर अंसारी भी करीब 15 वर्ष पहले इसी तरह मारे गए थे। स्थानीय लोगों के मुताबिक जमशेदपुर के बागबेड़ा इलाके में कथित तौर पर चोरी करते हुए मस्कूर को भीड़ ने पकड़ लिया था। पुलिस अब इस घटना से जुड़ी फाइल खोजने में जुटी है। मामले में बागबेड़ा पुलिस स्टेशन में एक केस भी दर्ज किया गया था। कांग्रेस जिला यूनिट के महासचिव मोहम्मद मोहसिन खान ने टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया कि पहचान होने के बाद वह मस्कूर के शव को उसके गांव वापस लाने के लिए जमशेदपुर गए थे। आखिरकार वह यहीं से था।

करीब सत्तर वर्ष की उम्र के दो बुजुर्गों ने नाम ना छापने की शर्त पर बताया (क्योंकि नाम सामने आने पर जांच एजेंसी उनसे भी पूछताछ करेंगी) कि खान ने जो कहा है वो सही है। उन्होंने कहा कि मस्कूर को वास्तव में भीड़ द्वारा मारा गया था। वहीं तबेरज के घर से करीब 100 मीटर की दूरी पर रहने वाली एक बुजुर्ग महिला ने कहा, ‘वह भी भीड़ द्वारा पकड़ा गया था। उसकी खूब पिटाई की गई और बाद में गला रेत दिया गया। जब उसका शव लाया गया तब हम यहीं मौजूद थे।’

बागबेड़ा के कुछ लोगों के जहन में नवंबर 2004 की कुख्यात लिंचिंग अभी भी स्पष्ट रूप से ताजा है। स्थानीय नेता और सामाजिक कार्यकर्ता सुबोध कुमार झा ने बताया, ‘एक दिन… बागबेड़ा में रामनगर इलाके के लोगों ने उस शख्स को पकड़ लिया और भीड़ ने उसे पीट-पीटकर मार डाला।’

बता दें कि झारखंड में कथित तौर पर उन्मादी भीड़ ने 24 वर्षीय तबरेज अंसारी की इतनी पिटाई की गई कि उसने अस्पताल में दम तोड़ दिया। बचपन में ही माता-पिता को खोने के बाद आठ साल पहले तबरेज पुणे चला गया था। अप्रैल महीने में वह शादी के लिए घर लौटा था। 27 मई को तबरेज की शादी 19 वर्षीय शाहिस्ता परवीन से हुई थी। कुछ ही दिनों बाद दोनों पुणे जाने वाले थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App