ताज़ा खबर
 

लालू यादव को बड़ी राहत: हाई कोर्ट से मिली 6 हफ्तों की अंतरिम जमानत

अदालत ने लालू यादव को उनकी खराब सेहत को देखते हुए 6 हफ्तों की अंतरिम जमानत दी है।

लालू प्रसाद यादव

बेटे की शादी में शामिल होने आए आरजेडी अध्यक्ष और चारा घोटाले के दोषी लालू प्रसाद यादव को लंबी अवधि के लिए अंतरिम जमानत मिली है। रांची हाईकोर्ट ने उन्हें 6 हफ्तों की जमानत दी है। हालांकि लालू को अभी तक पूरी तरह से जमानत मिली है। इसके लिए हाईकोर्ट में सुनवाई चलती रहेगी। अदालत ने लालू यादव को उनकी खराब सेहत को देखते हुए 6 हफ्तों की अंतरिम जमानत दी है। बता दें कि लालू प्रसाद यादव कल (10 मई) शाम ही बेटे तेज प्रताप यादव की शादी में शामिल होने तीन दिन के परोल पर पटना आए हुए हैं। तेज प्रताप यादव की शादी 12 मई को पटना में होने वाली है। लालू यादव के ना पहुंच पाने की वजह से यादव परिवार को उनकी गैरमौजूदगी में ही मेंहदी की रस्म करनी पड़ी थी। रांची हाई कोर्ट में लालू यादव के वकील ने बताया कि लालू ने अदालत में अपनी खराब सेहत का हवाला देते हुए जमानत की मांग की थी, जिसे अदालत ने मंजूर कर लिया। बता दें कि लालू यादव इस वक्त रांची के रिम्स में अपना इलाज करवा रहे हैं। लालू यादव किडनी और ह्रदय रोग से पीड़ित हैं। उन्हें शुगर की भी समस्या है। इससे पहले लालू यादव दिल्ली के एम्स में अपना इलाज करवा रहे थे।

रिपोर्ट के मुताबिक लालू यादव को चारा घोटाले के देवघर कोषागार समेत सभी तीन मामलों में स्वास्थ्य कारणों से दायर अंतरिम जमानत की याचिका स्वीकार करते हुए इलाज के लिए छह सप्ताह की अंतरिम जमानत दी गई है। अदालत ने इस मामले पर सुनवाई करते हुए बीस अप्रैल को सीबीआई से लालू यादव की चिकित्सिकीय रिपोर्ट अदालत में पेश करने को कहा था। हालांकि देवघर मामले में लालू की नियमित जमानत याचिका 23 फरवरी को खारिज करते हुए अदालत ने कहा था कि उनके खिलाफ आपराधिक मामलों की गंभीरता को देखते हुए इस मामले में उन्हें जमानत नहीं दी जा सकती है। अदालत में लालू को चिकित्सिकीय आधार पर अंतरिम जमानत देने की याचिका दायर की गयी थी जो न्यायमूर्ति अपरेश सिंह की पीठ के सामने आज सुनवाई के लिए आयी।

लालू के अधिवक्ता प्रभात कुमार ने बताया कि उन्होंने अदालत में चाईबासा एवं दुमका कोषागार मामलों में भी अंतरिम जमानत की याचिकाएं दायर की थीं। अदालत ने आज तीनों मामलों में सुनवाई एक साथ करते हुए लालू यादव को राहत दी है। यादव को इन मामलों में रिहाई की तिथि से छह सप्ताह की राहत होगी जिससे वह अपना उचित इलाज करा सकें। परोल के अनुसार उन्हें 14 मई को वापस न्यायिक हिरासत में लौटना था लेकिन अब उन्हें छह सप्ताह बाद जेल वापस लौटना होगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App