ताज़ा खबर
 

झारखंड: डीएसपी की चाची को डायन होने के शक में पीटकर मार डाला

मामले की जांच कर रही पुलिस ने बताया कि अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

प्रतीकात्मक फोटो।

झारखंड के गुमला शहर में बीते मंगलवार (12 जून, 2018) को भीड़ ने एक महिला को डायन समझ पीट-पीटकर उसकी हत्या कर दी। दरअसल घाघरा थाना क्षेत्र के आदर सलगी गांव में सत्तर वर्षीय सुभद्रा देवी घर में अकेली बैठी थीं। इस दौरान भीड़ घर में घुसी आग जलाने की लकड़ी से उनपर हमला कर दिया। सुभद्रा देवी लातेहारर के डीएसपी अनुज उरांव की चाची बताई जाती हैं। मामले की जांच कर रही पुलिस ने बताया कि अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। सुभद्रा देवी रांची में रहती थीं। खेती का काम देखने के लिए वह फरवरी में आदर सलगी गांव आई थीं।

स्थानीय खबर के मुताबिक मंगलवार सुबह के वक्त गांव के निवासियों ने उन्हें बाहर घूमते हुए देखा था। दोपहर करीब तीन बजे बेटी अनिता देवी उनसे मिलने पटना से पहुंची। उन्होंने घर में घुसते ही देखा की मां का शव जमीन पर पड़ा है। शरीर के आसपास खून पड़ा है। उन्होंने इसकी सूचना गांववालों के अलावा परिजनों की दी। हालांकि ज्यादा रात होने की वजह से वारदात स्थल पर उसी दिन पुलिस नहीं पहुंच सकी।

दूसरी तरफ डीएसपी अनुज उरांव ने कहा है कि मामले में वह अपने स्तर पर जांच कर रहे हैं। अभी तक हत्या के कारणों का खुलासा नहीं हो सका है। डायन होने के शक में हत्या की बात से भी इनकार नहीं किया जा सकता है। डीएसपी ने बताया कि आज गांवों में बुजुर्गों की डायन-बिसाही होने के शक में हत्याएं हो रही हैं। वहीं थाना प्रभारी मणीलाल राणा ने बताया कि सुभद्रा देवी की लकड़ी से हत्या की गई है। घर के आंगन में पुलिस ने शव बरामद कर लिया है। शुरुआती जांच में हत्या के कारणों का पता नहीं चल सका है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App