scorecardresearch

IIM में भाषण देते-देते कर बैठे बीजेपी का प्रचार, केंद्रीय मंत्री के खिलाफ केस दर्ज

Lok Sabha Elections 2019: राज्य में प्रमुख विपक्षी दल झारखंड मुक्ति मोर्चा (JMM) ने मुख्य चुनाव आयुक्त (झारखंड) एल खियांगते से इस संबंध में शिकायत की। पार्टी ने केंद्रीय मंत्री पर आरोप लगा कि उन्होंने दीक्षांत समारोह का इस्तेमाल भाजपा के चुनाव प्रचार के लिए किया।

jayant sinha
नागरिक उड्डयन राज्यमंत्री जयंत सिन्हा। (फाइल फोटो)
Lok Sabha Elections 2019: झारखंड के रांची में जिला प्रशासन ने हजारीबाग से भाजपा सांसद और नागरिक उड्डयन राज्यमंत्री जयंत सिन्हा के खिलाफ आचार संहित उल्लंघन का केस दर्ज कराया है। भाजपा नेता पर आरोप है कि उन्होंने दो दिन पहले आईआईएम-रांची में एक डिग्री वितरण समारोह कार्यक्रम के दौरान कथित तौर केंद्र सरकार की उपलब्धियों का प्रचार किया। रविवार (17 मार्च, 2019) को राज्य में प्रमुख विपक्षी दल झारखंड मुक्ति मोर्चा (JMM) ने मुख्य चुनाव आयुक्त (झारखंड) एल खियांगते से इस संबंध में शिकायत की। पार्टी ने केंद्रीय मंत्री पर आरोप लगा कि उन्होंने दीक्षांत समारोह का इस्तेमाल भाजपा के चुनाव प्रचार के लिए किया। मंत्री द्वारा ऐसा करना आदर्श आचार संहिता का घोर उल्लंघन है जिसे देश में 2019 के लोकसभा चुनाव के लिए लागू किया गया है।

मामले में रांची की एसडीओ गरिमा सिंह ने बताया, ‘हमने जनप्रतिनिधित्व अधिनियम के सेक्शन के 123 के तहत जयंत सिन्हा के खिलाफ केस दर्ज किया है। पता चला है कि उन्होंने निजी (संस्थान) के कार्यक्रम में पार्टी के प्रचार के लिए चुनावी आचार संहिता का उल्लंघन किया।’ वहीं रांची की डिप्टी कमिश्नर राय महिमापत ने बताया कि उन्होंने शिकायत दर्ज करने से पहले रांची के दीक्षांत समारोह का वीडियो मंगवाकर उसकी क्रॉस चैंकिंग की। सिन्हा के अलावा हजारी बाग में चुनावी आचार संहिता के उल्लंघन के आरोप में भाजपा, जेएमएम और एक अन्य पार्टी के नेता के खिलाफ भी केस दर्ज किया गया।

मामले में हजारी बाग की सब डिविजनल ऑफिसर मेघा भारद्वाज ने कहा, ‘सोशल मीडिया में आपत्तिजनक ट्वीट करने के चलते चौपारण में भाजपा ब्लॉक अध्यक्ष के खिलाफ भी केस दर्ज किया गया है।’ सब डिविजनल ऑफिसर ने आगे बताया कि भाजपा नेता के अलावा JMM के ब्लॉक अध्यक्ष कुलदीप यादव और उनकी पत्नी बेबे देवी के खिलाफ भी केस दर्ज किया गया है। यादव के खिलाफ एक केस बिष्णुगढ़ पुलिस स्टेशन में दर्ज किया गया है, उनके खिलाफ सिंचाई विभाग की चार दीवारी का इस्तेमाल चुनाव प्रचार के रूप में करने का आरोप है, जहां पार्टी के नारे पेंट किए गए।

पढें Elections 2022 (Elections News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.