ताज़ा खबर
 

‘फन वीडियो’ में लगाया सीएम रघुवर दास का फुटेज तो रांची पुलिस ने गिरफ्तार कर भेज दिया जेल

सरबप्रीत ने जो वीडियो बनाया था उसके शुरुआत में 'कूली नंबर वन' फिल्म का डांस सीन दिखाई दे रहे हैं जिसमें गोविंदा और करिश्मा कपूर डांस कर रहे हैं। इस गाने केा लिरिक्स है, मैं तो रस्ते से जा रहा था, भेलपुरी खा रहा था, तुझको मिर्ची लगी तो मैं क्या करूं।

तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीकात्मक तौर पर किया गया है।

झारखंड की राजधानी रांची में पुलिस ने एक ऐसे शख्स को गिरफ्तार किया है जो एक वेबसाइट चलाता था। सरबप्रीत सिंह नाम के इस सख्स पर आरोप है कि उसने साइबर कानून का उल्लंघन किया है। सरबप्रीत सिंह ने अपनी वेबसाइट रांची मेल पर एक वीडियो बनाकर अपलोड किया था। वीडियो को सोशल मीडिया पर भी लोड किया गया था। आरोप है कि वीडियो में सरबप्रीत ने फिल्मी गाने का क्लिपिंग के साथ मुख्यमंत्री रघुवर दास की क्लिपिंग और मेंटोस एड की भी क्लिपिंग लगाई थी। पुलिस ने यह कार्रवाई माउथ फ्रेशनर बनाने वाली कंपनी मेंटोस की शिकायत पर की है। सरबप्रीत पर आईटी एक्ट की धारा 419, 420, 468, 469, 500 और 505 लगाई गई है। सरबप्रीत पर कॉपी राइट और ट्रेड वॉयलेशन के भी आरोप हैं। इन धाराओं में दोषी साबित होने पर सात साल की सजा हो सकती है। पुलिस ने एफआईआर में लिखा है कि मुख्यमंत्री के खिलाफ आपत्तिजनक तरीके से वीडियो बनाया गया है।

HOT DEALS
  • Sony Xperia XZs G8232 64 GB (Warm Silver)
    ₹ 34999 MRP ₹ 51990 -33%
    ₹3500 Cashback
  • Panasonic Eluga A3 Pro 32 GB (Grey)
    ₹ 9799 MRP ₹ 12990 -25%
    ₹490 Cashback

सरबप्रीत ने जो वीडियो बनाया था उसके शुरुआत में ‘कूली नंबर वन’ फिल्म का डांस सीन दिखाई दे रहे हैं जिसमें गोविंदा और करिश्मा कपूर डांस कर रहे हैं। इस गाने केा लिरिक्स है, मैं तो रस्ते से जा रहा था, भेलपुरी खा रहा था, तुझको मिर्ची लगी तो मैं क्या करूं। इसके बाद वीडियो में ऑडियो म्यूट हो जाता है और झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास का वह विवादित वीडियो क्लिप दिखता है जिसमें वो पिछले दिनों विधानसभा में गुस्से में विपक्ष को मिर्चा लग रहा है.. कहते हुए दिखाई देते हैं। वीडियो के अंत में मेंटॉस टॉफी दिखाई देता है। वॉयय ओवर आ रहा है, मेन्टॉस दिमाग की बत्ती जला दे।

ये रहा वीडियो जिसके आधार पर हुई गिरफ्तारी-

मेड इन रांची वेबसाइट से जुड़े लोगों ने सरबप्रीत पर की गई पुलिस कार्रवाई की आलोचना की है और इसे अभिव्यक्ति की आजादी पर हमला बताया है। वीडियो में सीएम के फुटेज के इस्तेमाल को रांची पुलिस गलत बता रही है और सीएम की अवमानना मान रही है। बता दें कि पिछले साल दिसंबर में विधानसभा में स्थानीय नीति पर चर्चा के दौरान सीएम रघुवर दास ने विपक्ष पर हमला बोलते हुए कहा था कि जब सरकार काम कर रही है तो मिर्चा लग रहा है। विपक्ष के नेता हेमंत सोरेन ने इसे असंसदीय भाषा कह सीएम से माफी मांगने को कहा था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App