ताज़ा खबर
 

लालू की पार्टी की तरफ से लड़ सकते हैं शत्रुघ्न सिन्हा, रांची जाकर की मुलाकात

सिन्हा ने पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस नेता सुबोध कांत सहाय के साथ रांची के राजेंद्र आयुर्विज्ञान संस्थान (रिम्स) के पेइंग वार्ड में जाकर लालू से मुलाकात की। लालू कई बीमारियों से जूझ रहे हैं और इलाज के लिए उन्हें रिम्स में भर्ती कराया गया है।

Author Updated: December 23, 2018 11:08 AM
Shatrughan Sinhaलालू से मुलाकात के बाद, सिन्हा ने कहा, ‘मैंने उनके स्वास्थ्य के बारे में पूछा। हमारे परिवारिक संबंध हैं और मेरी बातचीत परिवार के लोगों को लेकर हुई। (PTI PHOTO)

भाजपा के वरिष्ठ नेता शत्रुघ्न सिन्हा, कांग्रेस और झारखंड मुक्ति मोर्चा (जेएमएम) के नेताओं ने चारा घोटाला मामले में जेल भेजे गए राष्ट्रीय जनता दल (राजद) प्रमुख लालू प्रसाद से शनिवार (22 दिसंबर, 2018) को रांची के एक अस्पताल में मुलाकात की। बीमार लालू का वहां इलाज चल रहा है। सिन्हा ने पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस नेता सुबोध कांत सहाय के साथ रांची के राजेंद्र आयुर्विज्ञान संस्थान (रिम्स) के पेइंग वार्ड में जाकर लालू से मुलाकात की। लालू कई बीमारियों से जूझ रहे हैं और इलाज के लिए उन्हें रिम्स में भर्ती कराया गया है।

लालू से मुलाकात के बाद, सिन्हा ने कहा, ‘मैंने उनके स्वास्थ्य के बारे में पूछा। हमारे परिवारिक संबंध हैं और मेरी बातचीत परिवार के लोगों को लेकर हुई। राजनीतिक विषय पर चर्चा नहीं हुई।’ उनके छोटे बेटे तेजस्वी यादव के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, ‘तेजस्वी एक अच्छे और होनहार युवक हैं। वह बिहार का चेहरा हैं।’ सहाय और सिन्हा के अलावा, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शकील अहमद ने लालू से मुलाकात की। झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री और झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन ने भी शनिवार को लालू से अस्पताल में मुलाकात की।

सोरेन ने कहा, ‘इस समय देश में भाजपा के खिलाफ लहर है। हमने झारखंड और देश में भाजपा को हराने के लिए मजबूत मंच के गठन के तरीकों पर चर्चा की।’ हांलाकि टेलीग्राफ में छपी खबर के मुताबिक भाजपा सांसद सिन्हा ने इशारा दिया है कि वो लालू यादव की पार्टी के बैनर तले अगला चुनाव लड़ सकते हैं। सिन्हा ने कहा कि वो भाजपा के दुश्मन नहीं हैं, बल्कि सभी पार्टियों के दोस्त हैं। सीबीआई की एक अदालत ने लालू को चारा घोटालों के तीन मामलों में दोषी ठहराया था और 14 वर्ष जेल की सजा सुनाई थी।

बता दें कि बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव निजी जिंदगी के कारण भले ही पिछले कुछ दिनों से राजनीति से दूर रहे हों, लेकिन एकबार फिर वे सक्रिय रूप से राजनीति में कदम रखने वाले हैं। तेजप्रताप अब जनता दरबार लगाएंगे और लोगों की समस्याएं सुनेंगे। तेजप्रताप यादव ने शनिवार को ट्वीट किया, “आम जनता और पार्टी कार्यकर्ताओं की समस्याओं को सुनने और उसके समाधान के लिए पार्टी कार्यालय में उपस्थित रहूंगा।”

जनता दरबार का समय दिन में 10 बजे दिन से दो बजे तक रहेगा। राजद के एक नेता ने बताया कि तेजप्रताप का जनता दरबार 24 दिसंबर से शुरू होगा। वे प्रतिदिन चार घंटे राजद प्रदेश कार्यालय में उपस्थित रहेंगे।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 ‘साधु’ पर 15 साल की बच्‍ची से रेप की कोशिश का केस, पीड़ित परिवार ने कहा- बलात्‍कार हुआ
2 भाजपा शासित राज्य में पीएम मोदी की योजना का फूल रहा दम, दलालों के चंगुल में गरीब
3 रांची : सेल टैक्स के डिप्टी कमिश्नर के घर में काम कर रही थी 12 साल की बच्ची, रेस्क्यू कराया गया
यह पढ़ा क्या?
X