पड़ोसी की बच्ची का अपहरण कर दे दी बलि, भगवान को 'खुश' करना चाहता था - a person sacrificed a seven month old baby - Jansatta
ताज़ा खबर
 

पड़ोसी की बच्ची का अपहरण कर दे दी बलि, भगवान को ‘खुश’ करना चाहता था

उप-संभागीय पुलिस अधिकारी (चंदिल) संदीप भगत ने शुक्रवार (2 जून) को बताया कि भदोई कलिंदी और तांत्रिक, कर्मू कलिंदी को पुलिस ने कल तिरुलडीह पुलिस थाना क्षेत्र के अंतर्गत चैदा गांव से गिरफ्तार कर लिया।

Author June 2, 2017 1:39 PM
शख्स ने संतान की प्राप्ति के लिए एक बच्ची का अपहरण करके उसकी बली दे दिया। (प्रतीकात्मक तस्वीर)

झारखंड के सरायकेला-खार्सवन जिले में एक व्यक्ति ने भगवान को खुश करने के लिये तांत्रिक की मदद से सात माह की एक बच्ची की कथित तौर पर बलि दे दी, ताकि उसे और उसकी पत्नी को संतान प्राप्ति हो सके। उप-संभागीय पुलिस अधिकारी (चंदिल) संदीप भगत ने शुक्रवार (2 जून) को बताया कि भदोई कलिंदी और तांत्रिक, कर्मू कलिंदी को पुलिस ने कल तिरुलडीह पुलिस थाना क्षेत्र के अंतर्गत चैदा गांव से गिरफ्तार कर लिया।

उन्होंने बताया कि भदोई एक संपेरा है। उसकी शादी करीब आठ साल पहले हुई थी, लेकिन उनकी कोई संतान नहीं है। उन्होंने बताया कि उसने भगवान को खुश करने के लिये बच्चे की बलि देने का निर्णय किया, ताकि उसे और उसकी पत्नी को संतान प्राप्ति हो सके। भगत ने बताया, ‘‘26 मई की रात, भदोई और कर्मू ने एक बच्ची का सोते समय अपहरण कर लिया। वह कर्मू के पड़ोसी सुभाष गोपे की लड़की थी। इसके बाद उन्होंने तिरुलडीह की एक नदी के करीब श्मशान घाट में उसकी कथित बलि दे दी।’’

उन्होंने बताया कि घटना के बाद से कर्मू गायब हो गया था जिससे पुलिस को बच्ची के अपहरण में उसके शामिल होने का संदेह हुआ। भगत ने बताया कि इसके बाद पुलिस ने उसे और भदोई को गिरफ्तार कर लिया। दोनों लोगों ने बृहस्पतिवार को अपना अपराध कबूल कर लिया। पुलिस ने भदोई के घर से बलि में इस्तेमाल किये गये हथियार को जब्त कर लिया है। उन्होंने बताया कि बच्ची के शव की तलाश की जा रही है।

देखिए वीडियो - असम: काले जाूद के चक्‍कर में तांत्रिक ने दे दी चार साल की बच्‍ची की बलि

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App