ताज़ा खबर
 

JEE Main Result 2019: नक्सली इलाके के 72 बच्चों ने क्रैक की परीक्षा, 20 के पर्सेंटाइल जनरल कैटिगिरी की कटऑफ से भी ज्यादा

NTA JEE Main April Result 2019: छत्तीसगढ़ के एक सरकारी स्कूल में पढ़ने वाले नक्सली इलाकों से आए 72 बच्चों ने जेईई मेन 2019 में सफलता हासिल कर मिसाल पेश की है।

Exam Studentsपरीक्षा कक्ष में बैठे छात्र (प्रतीकात्मक तस्वीर- इंडियन एक्सप्रेस)

JEE Main Result 2019: छत्तीसगढ़ के एक सरकारी स्कूल में पढ़ने वाले नक्सल प्रभावित इलाकों के बच्चों ने ऐसा कमाल कर दिखाया जो कम ही देखने में आता है। राज्य की राजधानी रायपुर में स्थित प्रयास आवासीय स्कूल में पढ़ने वाले सभी नक्सल प्रभावित इलाकों से आए हैं। नक्सल प्रभावित इलाका और सरकारी स्कूल का नाम सुनकर अगर आपके दिमाग में भी पिछड़ेपन की तस्वीर आ रही है, तो आप गलत हैं। इन बच्चों और इस स्कूल की कहानी आपकी धारणा बदल देगी। 29 अप्रैल को जब जेईई (ज्वॉइंट एंट्रेस एग्जाम) मेन- 2019 का रिजल्ट आया तो इस स्कूल के बच्चों ने सभी को चौंका दिया।

मुश्किलों को परे रख दिया शानदार रिजल्टः तमाम मुश्किलों को परे रखते हुए यहां के 93 में से 72 बच्चों ने जेईई मेन एग्जाम पास कर ली। इतना ही नहीं इनमें से 20 बच्चे तो ऐसे हैं जिनका स्कोर सामान्य वर्ग के कट ऑफ स्कोर (89.75 पर्सेंटाइल) से भी अच्छा रहा। ये सभी छात्र अब जेईई एडवांस की तैयारी में जुट गए हैं।

National Hindi News, 6 May 2019 LIVE Updates: दिनभर की अहम खबरों के लिए यहां क्लिक करें

रोज करीब 13-14 घंटे करते हैं पढ़ाईः दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के मुताबिक स्कूल के बच्चे सफलता का श्रेय शिक्षकों अभिषेक गौरव, राहुल तिवारी और डिगेश्वर साहू को दे रहे हैं। इन शिक्षकों ने बताया कि वे दो-दो घंटे फिजिक्स, केमेस्ट्री और मैथ्स पढ़ाते हैं। छह घंटे की पढ़ाई के बाद उन्हें होमवर्क दिया जाता है। इसके अलावा डाउट क्लियरिंग सेशन भी चलता है। बच्चों से कम से कम सात से आठ घंटे सेल्फ स्टडी भी कराई जाती है। साप्ताहिक परीक्षा भी ली जाती है, इससे उन्हें समय-समय पर अपनी कमजोरियां पता चलती रहती हैं।

 

सिर्फ नक्सल प्रभावित इलाकों के बच्चों को प्रवेशः स्कूल की खास बात यह है कि यहां सिर्फ नक्सल प्रभावित इलाकों के बच्चों को ही एडमिशन दिया जाता है। अब तक यहां के लगभग 35 बच्चे आईआईटी, 180 बच्चे एनआईटी, 32 बच्चे ट्रिपल आईटी में एडमिशन ले चुके हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 DELHI: गैंग नहीं, इन चोरों ने बना रखी थी MNC, सप्ताह में 2 छुट्टी का नियम, टारगेट पूरा होने पर देते थे ‘इनसेंटिव’
2 Mumbai: जिसने मुसीबत में दी थी नौकरी उसी से ठगे 37 लाख रुपए, फर्जी कंपनियां बनाकर लगाया चूना
3 महिला से दोस्ती पड़ी मेजर गोगोई को भारी, पेंशन पर लगेगी 6 महीने की रोक, भेजा जाएगा कश्मीर घाटी से बाहर
ये पढ़ा क्या?
X