ताज़ा खबर
 

जेडीयू नेता का खुला खत- लालू प्रसाद यादव ‘लाचार पिता’ और ‘महापापी’

पार्टी प्रवक्ता नीरज कुमार ने मंगलवार को लालू के नाम एक खुला पत्र लिखा, जिसमें उन्होंने आरजेडी मुखिया के सामने कई सवाल खड़े किए हैं।

जनता दल (यूनाइटेड) के प्रवक्ता नीरज कुमार ने इस खुले पत्र की प्रतियां अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर भी जारी की हैं। (फोटोः फेसबुक)

जनता दल (यूनाइटेड) ने राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के मुखिया लालू प्रसाद यादव पर करारा हमला बोला है। मंगलवार को पार्टी प्रवक्ता नीरज कुमार ने लालू के नाम एक खुला पत्र लिखा है। उन्होंने यह पत्र जारी कर आरजेडी मुखिया के सामने कई सवाल खड़े किए हैं। उन्होंने कहा कि जो जैसी फसल बोएगा, वह उसे वैसी ही काटेगा। आप जैसा पानी पिएंगे। आपका दिमाग और विचार भी ठीक वैसे ही हो जाएंगे। जद(यू) की ओर से इस प्रतिक्रिया को एक तरह से लालू और उनके बेटे पर पलटवार के रूप में माना जा रहा है। चूंकि लालू के बड़े बेटे और राज्य के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ सोमवार को विवादित बयान दिया था। जेडीयू ने पत्र में आगे आरजेडी मुखिया को लाचार पिता करार दिया गया है। कहा, “हो सकता है कि आप अपने बेटे के सामने लाचार हैं, लिहाजा तेज के बयानों पर आपने न तो असहमति जताई और न ही उनकी आलोचना की। जवान बेटे की बात कहकर मामले को टाल दिया गया।”

नीरज कुमार ने पूछा, “तेज के बर्ताव पर आपको गर्व होता होगा। मगर बिहार की आवाम के सामने आप साफ करें कि ये बातें बोलने की आदत से आपका बेटा आपको सजायाफ्ता पिता कहता होगा, तब आप कैसा महसूस करते होंगे?”

पार्टी प्रवक्ता यही नहीं रुके, वह पत्र के जरिए बोले, “तेज प्रताप घर के बाकी सदस्यों जैसे मां, बहन और भाई के नाम के आगे दागी शब्द का इस्तेमाल करता होगा? राजनीति को व्यवसाय बनाने और अवैध तरीके से धन जुटाने के लिए आपको राजनैतिक रूप से महापापी बताता होगा।” बता दें कि पिता लालू की सुरक्षा में कटौती किए जाने के बाद तेज प्रपात ने पीएम की खाल उधेड़ने की धमकी दी थी। जबकि, उससे पहले उन्होंने बिहार के डिप्टी सीएम सुशील मोदी के बेटे की शादी के निमंत्रण पर उन्हें घर में घुस कर मारने की चेतावनी दी थी।

आरजेडी मुखिया लालू यादव के बड़े बेटे और राज्य के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव ने पिता की सुरक्षा घटाए जाने पर पीएम को लेकर विवादित बयान दिया था। (फोटोः फेसबुक)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App