ताज़ा खबर
 

शरद और आरसीपी होंगे जद (एकी) के राज्यसभा उम्मीदवार

बिहार में सत्ताधारी पार्टी जद (एकी) ने राज्यसभा की पांच सीटों और राज्य विधान परिषद की सात सीटों के द्विवार्षिक चुनाव के लिए अपने उम्मीदवारों के नाम की गुरुवार को घोषणा कर दी।

Author पटना | May 27, 2016 2:19 AM
जेडीयू के पूर्व नेता शरद यादव (Express File photo)

बिहार में सत्ताधारी पार्टी जद (एकी) ने राज्यसभा की पांच सीटों और राज्य विधान परिषद की सात सीटों के द्विवार्षिक चुनाव के लिए अपने उम्मीदवारों के नाम की गुरुवार को घोषणा कर दी। जद (एकी) के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने गुरुवार को यहां संवाददाताओं को बताया कि पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्यसभा की दो सीटों के लिए पार्टी के वरिष्ठ नेता शरद यादव और आरसीपी सिंह तथा बिहार विधान परिषद की दो सीटों के लिए गुलाम रसूल बलियावी और सीपी सिन्हा के नाम की सहमति प्रदान कर दी है।

शरद यादव जद (एकी) के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष रहे हैं जिनसे नीतीश कुमार ने गत अप्र्रैल में पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष का कार्यभार प्राप्त किया है, जबकि आरसीपी सिंह नीतीश के विश्वस्त माने जाते हैं और वर्तमान में जद (एकी) के राष्ट्रीय महासचिव हैं। बिहार से राज्यसभा की आगामी सात जुलाई को रिक्त होने वाली इन पांच सीटों में से 243 सदस्यीय बिहार विधानसभा में अपने संख्या बल के आधार पर जद (एकी) और राजद दो-दो सीटें जीत सकती हैं तथा भाजपा एक सीट हासिल करने के लिए प्रयास करेगी।

राज्यसभा में जद (एकी) के पांच सदस्यों शरद यादव, के सी त्यागी, रामचं्रद प्रसाद सिंह, पवन कुमार वर्मा और गुलाम रसूल बलियावी का कार्यकाल जुलाई में समाप्त होने जा रहा है। आगामी सात जुलाई को राज्यसभा से सेवानिवृत्त होने वाले गुलाम रसूल बलियावी बिहार विधान परिषद में पार्टी उम्मीदवार के तौर पर नामांकन पाने में सफल रहे। वहीं बिहार विधान परिषद की एक अन्य सीट के लिए उम्मीदवार बनाए गए सीपी सिन्हा पुरानी समता पार्टी के समय से ही वफादार रहे हैं और वह दूसरी बार परिषद के सदस्य बनेंगे। वह किसान आयोग के अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी भी निभा चुके हैं। बिहार सरकार द्वारा गत 24 मई को राजपत्र में जारी अधिसूचना के अनुसार बिहार विधान परिषद की इन सात सीटों तथा राज्यसभा की पांच सीटें क्रमश: आगामी 21 जुलाई को एवं 7 जुलाई को रिक्त हो रही हैं और उनके लिए नामांकन की अंतिम तिथि 31 मई है। नामांकन पत्रों की जांच की तारीख एक जून और नाम वापस लेने की अंतिम तारीख तीन जून निर्धारित की गई है। बिहार विधान परिषद की इन सात सीटों तथा राज्यसभा की पांच सीटें के लिए मतदान की तिथि क्रमश: 10 जून एवं 11 जून निर्धारित की गई है।

गजट के अनुसार बिहार विधान परिषद तथा राज्यसभा की इन सीटों के लिए निर्वाचन की पूरी प्रक्रिया संपन्न करा लिए जाने की अंतिम तारीख 13 जून निश्चित की गई है। बिहार विधान परिषद की रिक्त होने वाली इन सात सीटों में से वर्तमान में जद (एकी), भाजपा और राजद के पास क्रमश: चार, दो और एक सीट है जिसमें से 243 सदस्यीय बिहार विधानसभा में संख्या बल के आधार पर महागठबंधन (जद (एकी)-राजद-कांग्रेस) को पांच सीटें एवं भाजपा को एक सीट मिलती दिख रही है तथा बाकी बची एक सीट के लिए आवश्यकता पड़ने पर चुनाव कराया जा सकता है। बिहार की 243 सदस्यीय विधानसभा में प्रदेश में सत्ताधारी महागठबंधन जद (एकी), राजद और कांग्रेस के क्रमश: 71, 80 एवं 27 सदस्य, राजग में शामिल भाजपा, लोजपा, रालोसपा एवं हम सेक्युलर के क्रमश: 53, 2, 2 एवं 1, तथा भाकपा माले के 3 और 4 निर्दलीय सदस्य हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App