ताज़ा खबर
 

कर्नाटक में येदियुरप्पा सरकार के भूमि सुधार कानून का विरोध, पर समर्थन में आए कुमारस्वामी; किसान नेता ने बताया ‘डील मास्टर’

भाजपा सरकार ने कर्नाटक भूमि सुधार (संशोधन) विधेयक, 2020 पारित कर दिया है। इसके बाद अब उन प्रतिबंधों को वापस ले लिया गया जिसमें कृषि योग्य भूमि को सिर्फ किसानों द्वारा ही खरीदा जा सकता है।

Author Translated By Ikram बेंगलुरु | Updated: December 13, 2020 8:38 AM
karnataka news india newsबिल पर कुमारस्वामी ने येदियुरप्पा सरकार की आलोचना करने से परहेज किया है।

कर्नाटक में नए भूमि सुधार कानून पर चौतरफा घिरी बीएस येदियुरप्पा सरकार को जेडीएस नेता और पूर्व सीएम एचडी कुमारस्वामी का साथ मिला है। उन्होंने भूमि सुधार बिल के लिए सरकार को समर्थन देते हुए कहा कि उन्हें खुद कृषि भूमि के अवैध स्वामित्व का सामना करना पड़ा है। बता दें कि राज्य में भाजपा सरकार ने कर्नाटक भूमि सुधार (संशोधन) विधेयक, 2020 पारित कर दिया है। आठ दिसंबर से इसे राज्यभर में लागू कर दिया गया है। इसके बाद अब उन प्रतिबंधों को वापस ले लिया गया जिसमें कृषि योग्य भूमि को सिर्फ किसानों द्वारा ही खरीदा जा सकता है।

सदन में विपक्षी दल जेडीएस ने इस बिल पर सरकार का साथ दिया। बिल पर सरकार का समर्थन करने पर एक किसान नेता ने कुमारस्वामी को ‘डील मास्टर’ बताया है। राज्य में जेडीएस सहयोगी सीपीआईएम ने भी कुमारस्वामी को निशाने पर लेते हुए कहा कि उन्होंने जन विरोधी कानून को समर्थन दिया, इससे जेडीएस का असली चेहरा सबके सामने आ गया है।

पूर्व मुख्यमंत्री और सदन में कांग्रेस नेता सिद्धारमैया ने सोशल मीडिया में कहा कि कुमारस्वामी सुबह को किसानों के विरोध प्रदर्शन का समर्थन करते हैं और शाम को किसान विरोधी कानून के पक्ष में मतदान करते हैं। जेडीएस नेता किस तरह की राजनीति करते हैं? जो लोग खुद को मिट्टी का बेटा और किसानों का बच्चा बताते हैं वो कैसे अन्नदाताओं की पीठ में छुरा कैसे घोंप सकते हैं।

कुमारस्वामी ने सितंबर में भूमि सुधार बिल का समर्थन करते हुए कहा था कि उन्हें खुद कृषि भूमि के अवैध स्वामित्व के आरोपों का सामना करना पड़ा था। हालांकि उन्होंने राज्य में भाजपा सरकार द्वारा लाए बिल का समर्थन ऐसे समय में किया है जब बड़ी तादाद में किसान नेता केंद्र तीन कृषि बिलों का विरोध कर रहे हैं।

बाद में विरोध पर कुमारस्वामी ने कहा कि ये मैं ही हूं जिसने विपक्ष की आलोचना के बावजूद किसानों का 25 हजार करोड़ का कर्ज माफ किया था। तब किसी ने मेरी पीठ नहीं थपथपाई थी।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 हाईकोर्ट ने CB-CID को सौंपा CBI से जुड़े मामले की जांच का जिम्मा, कस्टडी से गायब हो गया था 103 किलो सोना
2 रेप की शिकायतें ब्रेकअप के बाद करती हैं अधिकतर महिलाएं- महिला आयोग चीफ का बयान
3 जिससे था अफेयर, उसी का भाई संग मिलकर महिला ने कर दिया कत्ल, नाले में फेंकी लाश; बोली- अश्लील VIDEO के जरिए कर रहा था ब्लैकमेल
ये पढ़ा क्या ?
X