Cyclone Vardah create destruction in chennai - - Jansatta
ताज़ा खबर
 

तमिलनाडु पर दिसंबर भारी: जयललिता के निधन के बाद अब वरदा का कहर, पहले भी बाढ़-सुनामी में जा चुकी है हजारों जिंदगियांं

साल का आखिरी महीना दिसंबर तमिलनाडु में अक्सर उथलपुथल ले कर आता है।

Author चेन्नई | December 12, 2016 4:06 PM
तमिलनाडु में चक्रवात वरदा के कारण लोग घरों में कैद हैं। वहां पर अलर्ट जारी किया गया है। (Photo: Reuters)

साल का आखिरी महीना दिसंबर तमिलनाडु में अक्सर उथलपुथल ले कर आता है। चक्रवात वरदा ताजा उदाहरण है। वरदा के चलते तमिलनाडु की राजधानी चेन्‍नर्इ की रफ्तार थम गई है। वहां तेज बारिश हो रही है और कई इलाकों में पानी भरा हुआ है। वहां दो लोगों की मौत हो चुकी है। कई पेड़ उखड़ गए हैं। राज्‍य में अलर्ट घोषित किया गया है। इससे पहले राज्य में सुनामी और बाढ़ की प्राकृतिक आपदाओं का कहर कई बार दिसंबर में टूटा है।। अन्नाद्रमुक के संस्थापक एम जी रामचन्द्रन की मृत्यु और उसके बाद अब अन्नाद्रमुक की प्रमुख और मुख्यमंत्री जे जयललिता का निधन भी दिसंबर माह में ही हुआ। अन्नाद्रमुक के संस्थापक, करिश्माई अभिनेता और फिर राजनीति में आ कर राज्य के मुख्यमंत्री पद की बागडोर संभालने वाले एम जी रामचन्द्रन का निधन 24 दिसंबर 1987 को हुआ था, जबकि उनकी अनुयायी जयललिता ने पांच दिसंबर को अपनी आखिरी सांस ली।

दोनों नेता निधन से पहले लंबे समय तक बीमार रहे और उनका उपचार किया जाता रहा। भारत के अंतिम गवर्नर जनरल सी राजगोपालाचारी का निधन 25 दिसंबर 1972 को जबकि तर्कवादी नेता ‘‘पेरियार’’ ई वी रामासामी का निधन 24 दिसंबर 1972 को हुआ था। दोनों की ही उम्र 94 साल थी। प्रकृति ने भी साल के अंतिम माह दिसंबर में ही राज्य में कहर बरपाया था। तमिलनाडु में 26 दिसंबर 2004 को भीषण सुनामी आयी थी, जबकि दिसंबर 2015 में अभूतपूर्व मूसलाधार बारिश हुयी थी जिसके खौफ से चेन्नई, कांचीपुरम, कुड्डालोर, तिरूवल्लूर और तूतुकुड़ी के लोग अब तक नहीं उबर पाए हैं।

जयललिता से जुड़ी पूरी कवरेज के लिए यहां क्लिक करें:

तमिलनाडु सरकार ने मुख्यमंत्री जयललिता के निधन के मद्देनजर मंगलवार से सात दिन के राजकीय शोक की घोषणा की है। मुख्य सचिव पी राम मोहन राव ने एक अधिसूचना में कहा कि इस अवधि में सभी सरकारी भवनों पर राष्ट्रीय ध्वज आधा झुका रहेगा। इस दौरान कोई आधिकारिक मनोरंजन भी नहीं होगा।

तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जयललिता का निधन, सात दिन के राजकीय शोक की घोषणा:

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App