ताज़ा खबर
 

त्राल आतंकी हमला: रो पड़े कैबिनेट मंत्री नईम अख्तर, बोले- इस्लाम के दुश्मन है ये लोग

जम्मू-कश्मीर में पुलवामा जिले के त्राल आंतकी हमले में राज्य के वरिष्ठ मंत्री नईम अख्तर बाल-बाल बच गए।

Author Published on: September 21, 2017 6:04 PM

जम्मू-कश्मीर में पुलवामा जिले के त्राल आंतकी हमले में राज्य के वरिष्ठ मंत्री नईम अख्तर बाल-बाल बच गए। लेकिन इस हमले में तीन नागरिक मारे गए। बाद में सूबे के कैबिनेट मंत्री बताचीत में रो पड़े। उन्होंने कहा, ‘जिंदगीभर ये मंजर भूल नहीं सकूंगा। हमलावर कश्मीर और इस्लाम के दुश्मन हैं। ये लोग करबला दोहराना चाहते हैं। सुरक्षाबलों के बिना यहां सिर्फ मारकाट ही होगी।’ आतंकी हमले के बाद त्राल के विधायक मुश्ताक अहमद संग पत्रकारों से संबोधित करते हुए नईम अख्तर ने कहा कि हमलावर ना कश्मीरियों के दोस्त है और ना त्राल के हमदर्द। ऐसे लोग इस्लाम के पैरोकार भी नहीं हो सकते। इन लोगों ने मुहर्रम के पहले दिन करबला दोहराना चाहा है।

ग्रेनेड हमले के फौरन बाद सुरक्षाबलों द्वारा कई लोगों के साथ की गई मारपीट के मामले की तरफ ध्यान दिलाए जाने पर नईम अख्तर ने कहा कि जिस तरह की स्थिति थी,अगर सुरक्षाबल संयम ना बरतते तो बहुत ज्यादा नुक्सान होता। सुरक्षा बलों के हालातों के अनुसार ही व्यवहार करना होता है। लोग रोज ही लोग सुरक्षाबलों पर आरोप लगाते रहते हैं, लेकिन मेरा मानना है कि उनके बिना तो यहां चारों तरफ मारकाट व अराजकता ही होगी।

उन्होंने आगे कहा कि मैं तो बच गया, लेकिन तीन बेगुनाह मारे गए हैं। कई लोग जख्मी हुए हैं। मैने उनकी हालत देखी है, बहुत बुरी स्थिति है। मैं जिंदगी भर यह मंजर नहीं भूल पाऊंगा। खुदा से दुआ है कि सभी जख्मी जल्दी ठीक हों और कश्मीर में अमन का माहौल बने।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 पुलवामा: ग्रेनेड हमले में बाल-बाल बचे मंत्री, 3 नागरिकों की मौत, कुल 30 घायल
2 जम्मू-कश्मीर: हिजबुल आतंकी आदिल अहमद भट्ट बीजबेहाड़ा रेलवे स्टेशन से गिरफ्तार
3 डीजीपी की कश्मीरियों से अपील- अपने बच्चों को बंदूकों से दूर रखो, खून बहाने से कुछ नहीं मिलेगा
जस्‍ट नाउ
X