ताज़ा खबर
 

जम्मू और कश्मीर: कुपवाड़ा जिले में घुसपैठ कर रहे तीन आतंकियों को सेना ने किया ढेर

तीनों आतंकी बीएसएफ चौकी पर हमले में भी थे शामिल

Author श्रीनगर | July 13, 2017 1:30 PM
सीमा पर गश्ती करते भारतीय सेना के जवान।

कश्मीर के तंगधार इलाके में रविवार को नियंत्रण रेखा से घुसपैठ की कोशिशों को विफल करते हुए सेना ने तीन आतंकवादियों को मार गिराया। ये आतंकवादी इलाके में दो दिन पहले बीएसएफ की चौकी पर हुए हमले में शामिल थे। सेना के एक अधिकारी ने कहा कि सेना ने कुपवाड़ा जिले के तंगधार इलाके में घुसपैठ की कोशिश को नाकाम कर दिया है। इस अभियान में तीन आतंकवादियों को मार गिराया गया।

उन्होंने बताया कि मारे गए आतंकी बीते 19 अगस्त को तंगधार इलाके में बीएसएफ चौकी पर हुए हमले में शामिल थे। इस हमले में तीन जवान घायल हो गए थे। अधिकारी ने बताया कि घटनास्थल से तीन हथियार और युद्ध से संबंधित अन्य सामग्री बरामद हुई है। उन्होंने बताया कि तलाश अभियान अभी जारी है।इस बीच, श्रीनगर जिले और दक्षिण कश्मीर के दो शहरों में कर्फ्यू रविवार को भी जारी रहा जबकि घाटी में बाकी जगहों पर पाबंदियां लगी हुई हैं। इसकी वजह से कश्मीर में लगातार 44वें दिन जनजीवन प्रभावित रहा। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि एहतियाती तौर पर पूरे श्रीनगर जिले समेत अनंतनाग और पम्पोर शहर में कर्फ्यू जारी रखा गया है। बाकी की घाटी में लोगों की आवाजाही पर पाबंदी भी जारी है।

अलगाववादियों ने लोगों से आह्वान किया था कि वे रविवार दोपहर तीन से पांच बजे के बीच स्थानीय चौकों व केंद्रों पर पहुंचे और वहां कब्जा जमा लें।   उनसे अपने घरों और इर्द-गिर्द के स्थानों पर ऐसे पोस्टर चिपकाने के लिए कहा गया है जिनमें सभी पार्टियों के मंत्रियों, विधायकों और पार्षदों से सरकार और पार्टी में अपने पदों से इस्तीफा देने की बात लिखी गई हो।
घाटी में प्रदर्शनों का सिलसिला हिज्बुल मुजाहिदीन के आतंकी बुरहान वानी के मारे जाने के बाद शुरू हुआ था। इन प्रदर्शनों में आम नागरिकों की मौत के खिलाफ हो रहे प्रदर्शनों की अगुवाई अलगाववादी कर रहे हैं। नौ जुलाई से शुरू हुई झड़पों में अब तक दो पुलिसकर्मियों समेत 64 लोगों की मौत हो चुकी है। सैयद अली शाह गिलानी, मीरवाइज उमर फारुक और मोहम्मद यासीन मलिक की अगुआई वाले अलगाववादी गुट ने हड़ताल की अवधि 25 अगस्त तक बढ़ा दी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X