ताज़ा खबर
 

कश्मीर: उड़ी में बड़ी साजिश नाकाम, मुठभेड़ में तीन आतंकवादी मारे गए

इस दौरान एक जवान और तीन लोग भी घायल हुए। मारे गए आतंकवादियों की साजिश सैन्य शिविर पर हमला करने की थी।
Author श्रीनगर | September 25, 2017 01:41 am
जम्मू-कश्मीर में चौकसी करता जवान। (फाइल फोटो)

कश्मीर के उड़ी में सुरक्षा बलों ने रविवार को मुठभेड़ में तीन आतंकवादी मार गिराए। इस दौरान एक जवान और तीन लोग भी घायल हुए। मारे गए आतंकवादियों की साजिश सैन्य शिविर पर हमला करने की थी।  उधर पाकिस्तान की गोलीबारी के कारण बालकोट सेक्टर में दो जवान घायल हो गए जबकि बारामूला में हुए हथगोले हमले के दौरान तीन सुरक्षाकर्मी घायल हो गए। इस हथगोले हमले के दौरानविशेष पुलिस अधिकारी (एसपीओ) ने चौकसी दिखाई और वाहन में फेंके गए विस्फोटर को दूर फेंक दिया। इससे कई जानें बच गर्इं।  सेना के अधिकारी ने बताया कि आतंकवादियों की  मौजूदगी की सूचना मिलने के बाद रविवार सुबह उरी के कलगई इलाके में घेराबंदी की गई। तलाशी अभियान के दौरान आतंकवादियों ने सुरक्षा बलों पर गोलियां चलार्इं जिसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गई। अभियान में तीन आतंकवादी मार गिराए गए जबकि एक सैनिक घायल हो गया। गोलीबारी में तीन नागरिक भी घायल हुए हैं। पुलिस महानिदेशक एसपी वैद्य ने बताया कि आतंकवादियों की पिछले वर्ष की तरह उरी में एक सैन्य शिविर पर हमले को अंजाम देने की साजिश थी।

उन्होंने यहां कार्यक्रम के इतर बताया ‘बड़े षड़यंत्र को विफल कर दिया गया। पिछले वर्ष एक सैन्य अड्डे पर आत्मघाती हमले की तरह आतंकवादियों ने इस बार भी इसी तरह की साजिश रची थी लेकिन पुलिस और सेना के हाथ यह सूचना पहले ही लग गई।’ पिछले वर्ष 18 सितंबर को नियंत्रण रेखा के निकट उरी में सैन्य ब्रिगेड मुख्यालय पर चार आतंकवादियों ने हमला किया था जिसमे 19 सैनिक शहीद हो गए थे।उधर आतंकवादियों ने उत्तरी कश्मीर के बारामूला जिले के सोपोर में सुरक्षा बलों के वाहन के भीतर ग्रेनेड फेंका। इस दौरान चौकस विशेष पुलिस अधिकारी ने विस्फोटक वाहन से बाहर फेंक कर साथियों और कई नागरिकों की जानें बचा लीं। लेकिन इसमें तीन सुरक्षाकर्मी (दो एसपीओ और एक सीआरपीएफ जवान) घायल हो गए। पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने ट्वीट किया, ‘बहादुर एसपीओ को जम्मू-कश्मीर में तुरंत नियमित कर उनके द्वारा दिखाई गई सूझबूझ के लिए सम्मानित किया जाना चाहिए।’

पाकिस्तान ने रविवार को फिर संघर्षविराम का उल्लंघन किया। सेना ने बताया कि पाकिस्तानी सैनिकों ने तड़के करीब तीन बजे बालकोट सेक्टर के भीमबेर गली क्षेत्र में एलओसी से सटी अग्रिम चौकियों को निशाना बनाकर गोलीबारी व गोलाबारी की। इसमें दो जवान घायल हो गए। पाकिस्तान की गोलीबारी व गोलाबारी के चलते सीमावर्ती क्षेत्रों में रहने वाले सैकड़ों लोगों को अपने घर छोड़ने को मजबूर होना पड़ा है और उन्होंने सरकार द्वारा स्थापित शिविरों में शरण ली है। कुपवाड़ा जिले में आतंकवादियों के ठिकाने से एके-47 रायफल, एक एलएमजी, दो पिस्तौल, एक रॉकेट प्रोजेक्टाइल गन, एक आइईडी, एक वायरलैस सेट और बड़ी संख्या में गोलियां बरामद की गर्इं।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.