ताज़ा खबर
 

VIDEO: मेजर से बोला आतंकी- मां का दूध पिया है तो सामने आ, अगली सुबह ही कब्र में सुला दिया

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक एक अप्रैल (2018) से 30 दिन के भीतर 28 लोग आतंकी संगठन में शामिल हो चुके हैं। इसमें पुलिस के जवान, स्कॉलर, सेना के लोग अलग-अलग आतंकी संगठन में शामिल हुए।

Author Updated: May 1, 2018 2:58 PM
एक रिपोर्ट के मुताबिक समीर 6 मई, 2016 को आतंकी संगठन हिजबुल में शामिल हुआ था। बुरहान की मौत से पहले वह उसका दायां हाथ माना जाता था। (पीटीआई फोटो और वीडियो स्क्रीन शॉट)

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सुरक्षा बलों ने घाटी में पोस्टर ब्वॉय बन चुके हिजबुल के टॉप कमांडर समीर अहमद बट उर्फ समीर टाइगर को घर में घुसकर मौत के घाट उतार दिया। समीर वहीं आतंकी है जिसने सोशल मीडिया में वीडियो शेयर कर भारतीय सेना के मेजर शुक्ला को चुनौती दी थी। आतंकवादी चुनौती के 24 घंटे के भीतर सेना ने द्रबगाम में उसे खत्म कर दिया। दरअसल आतंकी समीर टाइगर ने वीडियो में कहा, ‘शुक्ला को कहना कि शेर ने शिकार करना क्या छोड़ा और तूने सोचा जंगल हमारा है। अगर तूने अपनी मां का दूध पिया है तो सामने आ जा।’ आतंकी की इस चुनौती के बाद सेना ने ज्वाइंट ऑपरेशन CASO यानी कॉर्डन एंड सर्च ऑपरेशन चलाया। इसमें आबादी में छिपकर बैठे आतंकियों को पकड़ने की कार्रवाई यानी घेरा डालकर तलाशी ली जाती है। एक रिपोर्ट के मुताबिक समीर 6 मई, 2016 को आतंकी संगठन हिजबुल में शामिल हुआ था। बुरहान की मौत से पहले वह उसका दायां हाथ माना जाता था। बाद में जुलाई 2016 में बुरहान की मौत के बाद हिजबुल ने समीर को पोस्टर ब्वॉय के रूप में पेश किया। समीर कई बार सुरक्षा बलों पर हमला कर चुका है। उसपर सेना के खिलाफ साजिश रचने का भी आरोप है। पत्थरबाजी में भी उसका नाम आ चुका है। उसके गुनाहों का अंदाजा महज इसी बात से लगाया जा सकता है कि सेना उसपर दस लाख रुपए का इनाम घोषित कर रखा था।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक एक अप्रैल (2018) से 30 दिन के भीतर 28 लोग आतंकी संगठन में सामिल हो चुके हैं। इसमें पुलिस के जवान, स्कॉलर, सेना के लोग अलग-अलग आतंकी संगठन में शामिल हुए। एबीपी की खबर के मुताबिक- आदिल अहमद मीर, मुजम्मिल अहमद, जुबैर अहमद वानी, आबिद नजीर, मीर इंद्रीस सुल्तान (सेना का जवान), खालिद फारुख मलिक, सोपिया, उबेस मलिक, आदिल अहमद, अबू उमैद हिजबी, जमीर अहमद शेख, सबीर अहमद, मुजफ्फर अली शेख, फैजल अहमद, आशिक अहमद, उमर अहमद मीर उर्फ अबू दुजाना, फय्याद अहमद मीर, हाफिज जुबैर अहमद घाटी में आतंक की पनाह में जा चुके हैं।

देखें वीडियो-

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 कठुआ: मुख्य आरोपी ने माना गुनाह, गैंगरेप करने वाले बेटे को बचाने के लिए कर दी बच्ची की हत्या!