ताज़ा खबर
 

जम्मू-कश्मीर: बडगाम में पुलिस पार्टी पर आतंकी हमला, जवाबी कार्रवाई में मारा गया एक आतंकी

सोमवार को आतंकियों ने जुहामा में पुलिस पार्टी पर अचानक हमला कर दिया।
भारतीय सेना के जवान। (प्रतीकात्मक तस्वीर)

जम्मू-कश्मीर के बडगाम में पुलिस पार्टी पर हुए आतंकी हमले में सुरक्षा बलों ने हमलावरों को करारा जवाब देते हुए एक आतंकी को मार गिराया है। न्यूज एजेंसी एएनआई के अनुसार जिले के जुहामा में आतंकी और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ अभी भी जारी है। मामले में ज्यादा जानकारी का अभी इंतजार है। बता दें कि इससे पहले उत्तरी कश्मीर के सोपोर कस्बे में बीते शनिवार (6 जनवरी, 2017) को आतंकियों के लगाए गए एक आइईडी में हुए विस्फोट में गश्त कर रहे चार पुलिसकर्मी शहीद हो गए। एक अधिकारी ने बताया कि आतंकियों ने बारामुला जिले के सोपोर में छोटा बाजार और बड़ा बाजार के बीच स्थित गली में एक दुकान के निकट आइईडी लगाया था।

इसपर तब मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने कहा था कि वे बारामुला जिले के सोपोर कस्बे में एक आइईडी धमाके में चार पुलिसकर्मियों के मारे जाने की खबर से दुखी हैं। धमाके में शहीद हुए पुलिसकर्मी अलगाववादियों की प्रायोजित हड़ताल को देखते हुए इलाके में गश्त कर रहे थे। यह इस साल घाटी में हुआ ऐसा पहला बड़ा आतंकी हमला है जिसमें सुरक्षाकर्मी मारे गए हैं। इससे पहले 31 दिसंबर को दक्षिणी कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के एक शिविर पर भारी हथियारों से लैस आतंकियों के किए गए आत्मघाती हमले में अर्द्धसैनिक बल के पांच कर्मी शहीद हो गए थे।

रिपोर्ट के अनुसार तब जैश-ए-मोहम्मद आतंकवादी संगठन ने हमले की जिम्मेदारी ली था। हालांकि कश्मीर पुलिस ने कहा था कि वह दावे की सत्यता की जांच करेगी। शहीदकर्मियों की पहचान डोडा निवासी-सहायक उप निरीक्षक (एएसआइ) इरशाद अहमद, बारामूला में रोहमा रफियाबाद इलाके के निवासी कांस्टेबल गुलाम नबी, (विलगाम, हंदवाड़ा निवासी) कांस्टेबल परवेज अहमद और (सोगाम, कुपवाड़ा निवासी) कांस्टेबल मोहम्मद आमीन के रूप में की गई थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.