ताज़ा खबर
 

ट्रैफिक को लेकर भिड़े मेयर-SP, सोशल मीडिया पर वायरल हुआ झगड़ा

श्रीनगर महापौर कार्यालय संभालने के अपने पहले दिन जुनैद मट्टू ने श्रीनगर शहर में यातायात "प्रबंधन और अनुशासन" की मांग की। इसके बाद उन्हें आईपीएस अधिकारी बसंत रथ, जम्मू-कश्मीर यातायात प्रमुख का सामना करना पड़ा।

मेयर जुनैद मट्टू ने ट्वीट किया कि शहर में यातायात कुप्रबंधन मुद्दों के बारे में कई शिकायतें मिली हैं।

श्रीनगर में ट्रैफिक मैनेजमेंट को लेकर शहर के मेयर और एसपी सोशल मीडिया पर भिड़ गए। श्रीनगर महापौर कार्यालय संभालने के अपने पहले दिन जुनैद मट्टू ने श्रीनगर शहर में यातायात “प्रबंधन और अनुशासन” की मांग की। इसके बाद उन्हें आईपीएस अधिकारी बसंत रथ, जम्मू-कश्मीर यातायात प्रमुख का सामना करना पड़ा। मेयर जुनैद मट्टू ने ट्वीट किया कि शहर में यातायात कुप्रबंधन मुद्दों के बारे में कई शिकायतें मिली हैं। मैंने एसपी यातायात (शहरी) से बात की है और वर्तमान ट्रैफिक डायवर्जन और प्लान की समीक्षा के लिए कहा है। श्रीनगर म्यूनिसिपल कॉर्पोरेशन को वैकल्पिक मार्गों में मदद के लिए निर्देशित किया गया है, ताकि लोगों को कुछ राहत दी जा सके।

इसके बाद आईपीए अधिकारी ने लिखा कि, “यह आपका अधिकार क्षेत्र नहीं है। जहांगीर चौक पर ट्रैफिक डायवर्जन जरूरी है। वेंडर्स ने अमिरा कडाल – एचएसएचएस – महाराजा बाजार – एलडी अस्पताल गंदगी फैला रखी है। एसएमसी को इसे साफ करने की जरूरत है।” इसके बाद एक ट्विटर यूजर ने लिखा कि उन्हें मेयर के आदेश का पालन करना ही होगा। इसके बाद बसंत रथ ने लिखा कि, “नहीं, मैं नहीं करता। उनका शासनादेश सीमित है। बहुत सीमित, यातायात उसके अधिकार क्षेत्र के अंतर्गत नहीं आता है।

यह पहली बार नहीं है जब दोनों सोशल मीडिया में इस तरह कर रहे हैं। मंगलवार 6 नवंबर को जब मट्टू ने मेयर पद जीता, तो उन्होंने मध्यस्थों के एक सवाल के जवाब में कहा कि मैकडॉनल्ड्स कश्मीर वेल्टलैंड से अधिक महत्वपूर्ण थे। वह श्रीनगर में बदलाव लाने के बारे में स्पष्ट रूप से बात कर रहे थे। इसके कुछ घंटों बाद, ही रथ ने ट्विटर उन्हें ‘कैबेज'(पत्तागोभी) कहा था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App