ताज़ा खबर
 

J&K में अलगाववादी महिला नेता ने फहराया पाकिस्तानी झंडा, बोली- लोग या तो मुस्लिम हैं या काफिर

आसिया ने कहा कि पाकिस्तान मुसलमानों का देश है और इसकी स्थापना राष्ट्रीयता के आधार पर नहीं हुई थी। दुख्तरीन ए मिल्लत की मुखिया ने कहा कि इस्लाम पाकिस्तान का आधार है। तस्वीरों में दिख रहा है कि आसिया अंद्राबी मंच पर बैठी हुई है, उसके बगल में दो महिलाएं खड़ी हैं।

श्रीनगर में एक अज्ञात स्थान पर पाकिस्तान का राष्ट्रीय दिवस मनाती दुख्तरीन ए मिल्लत की चीफ आसिया अंद्राबी (बीच में)

जम्मू-कश्मीर की अलगाववादी नेता और दुख्तरीन ए मिल्लत की चीफ आसिया अंद्राबी ने जम्मू कश्मीर में शुक्रवार (23 मार्च) को पाकिस्तान का राष्ट्रीय दिवस में मनाया। समाचार एजेंसी एएनआई द्वारा जारी तस्वीरों में आसिया अंद्राबी बुर्के में एक अज्ञात जगह में दिख रही हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक आसिया अंद्राबी श्रीनगर में थी, आसिया के साथ कई महिलाएं भी बुर्के में मौजूद थीं। इस मौके पर आसिया ने बेहद भड़काऊ बयान दिया। आसिया ने कहा कि उसके लिए लोग या तो मुसलमान होते हैं या फिर काफिर। आसिया ने कहा कि पाकिस्तान मुसलमानों का देश है और इसकी स्थापना राष्ट्रीयता के आधार पर नहीं हुई थी। दुख्तरीन ए मिल्लत की मुखिया ने कहा कि इस्लाम पाकिस्तान का आधार है। तस्वीरों में दिख रहा है कि आसिया अंद्राबी मंच पर बैठी हुई है, उसके बगल में दो महिलाएं खड़ी हैं। मंच पर ही पाकिस्तान का झंडा भी दिख रहा है।

54 साल की आसिया अंद्राबी अक्सर भारत के खिलाफ जहर उगलती रहती है। इसी साल फरवरी महीने में आसिया ने एक वीडियो ट्वीट किया था। इसमें तीन हथियारबंद नकाबपोश इंडियन आर्मी के बारे में आपत्तिजनक बात कर रहे थे। ये लोग खुद को कश्मीर मुजाहिद्दीन का सदस्य बता रहे थे। इनका कहना था कि भारतीय सेना हाफिज सईद और मसूद अजहर को मारने का सपना देख रही है। आसिया अंद्राबी को भारत विरोधी गतिविधियों के आरोप में कई बार गिरफ्तार किया जा चुका है। 2017 में दिसंबर के आखिरी हफ्ते में उन्हें दो दिनों तक जेल में रखने के बाद रिहा किया गया था। आसिया को 2010 के एक मामले में गिरफ्तार किया गया था। इससे पहले पिछले साल मई में भी पब्लिक सेफ्ट एक्ट तोड़ने के आरोप में आसिया को गिरफ्तार किया जा चुका है। आसिया अंद्राबी पहले भी पाकिस्तान का झंडा फहरा चुकी हैं।

मुंबई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद भी आसिया अंद्राबी से अपने संबंधों को मान चुका है। हाफिज सईद आसिया अंद्राबी से फोन पर बात करने के तथ्य को स्वीकार भी कर चुका है। हिज्बुल कमांडर बुरहान वानी की मौत के बाद भी आसिया ने इंडियन आर्मी और इंडिया के खिलाफ भड़काऊ बयान दिये थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App