ताज़ा खबर
 

कश्मीर प्रदर्शन पर बोले राम माधव- सरकार का रूख दृढ़ रहेगा भले ही ‘‘हिंसा भड़के या नहीं भड़के।’’

भाजपा के महासचिव माधव ने एक ट्वीट में कहा कि सरकार का रूख दृढ़ रहेगा भले ही ‘‘हिंसा भड़के या नहीं भड़के।’’

Author नई दिल्ली | July 9, 2016 6:33 PM
भाजपा महासचिव राम माधव (पीटीआई फाइल फोटो)

आतंकवादी बुरहान वानी के मारे जाने के बाद घाटी में हिंसा भडकने के बीच भाजपा नेता राम माधव ने शनिवार को जोर दिया कि जम्मू कश्मीर के विकास के लिए आतंकवाद के खिलाफ ‘‘बिना समझौता किए’’ मुकाबला महत्वपूर्ण है और सरकार अपने रूख पर दृढ़ रहेगी। भाजपा के महासचिव माधव ने एक ट्वीट में कहा कि सरकार का रूख दृढ़ रहेगा भले ही ‘‘हिंसा भड़के या नहीं भड़के।’’

उन्होंने बाद में कहा, ‘‘चाहे राज्य सरकार हो या केंद्र सरकार, हम हमेशा घाटी के आम आदमी की सुरक्षा और शांति के लिए प्रयास करेंगे तथा राज्य के विकास के लिए माहौल बनाने का भी प्रयास करेंगे। आतंकवाद के खिलाफ बिना समझौता किए मुकाबला इसका हिस्सा है और महत्वपूर्ण है।’’ उधमपुर से सांसद और केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने सुरक्षा बलों की सराहना की और शांति के लिए अपील करते हुए कहा कि आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में समाज के सभी तबकों को साथ आना चाहिए, भले ही उनकी राजनीतिक विचारधारा कुछ भी हो।

सिंह ने जम्मू में संवाददाताओं से कहा, ‘‘हमें अपने सुरक्षाबलों पर गर्व है। उन्होंने आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में एक बड़ी कामयाबी हासिल की है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हम शांति कायम रखने के लिए अपील करते हैं। आतंकवाद के खिलाफ मुकाबला सामूहिक है और जम्मू कश्मीर के सभी पक्षों की ओर से एकजुट प्रयास की जरूरत है।’’ घाटी में कश्मीरी पंडित कर्मचारियों की कालोनियों सहित अल्पसंख्यकों के रहने के स्थानों पर सुरक्षा मुहैया कराए जाने के बारे में उन्होंने कहा, ‘‘इन स्थानों पर सुरक्षा सरकार तथा समाज की जिम्मेदारी है। उन्हें पूरी सुरक्षा मुहैया करायी जानी चाहिए।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App