ताज़ा खबर
 

काश मन की बात में प्रधानमंत्री कश्मीर में हालात का जिक्र करते: उमर

कश्मीर घाटी में सुरक्षा बलों और प्रदर्शनकारियों के बीच झड़पों में अब तक 49 लोगों की मौत हो गई है जबकि लगभग 5,600 लोग घायल हैं।

Author श्रीनगर | July 20, 2017 1:11 PM
नेशनल कान्फ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला

विपक्षी पार्टी नेशनल कांफ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला ने आज इस बात पर अफसोस जताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने रेडियो संबोधन ‘मन की बात’ में जम्मू-कश्मीर के हालात का जिक्र तक नहीं किया। उमर ने ट्वीटर पर लिखा, ‘‘काश प्रधानमंत्री को मेरे राज्य के लिए आश्वस्त करने वाले गिने-चुने शब्द ही मिल जाते। राज्य में अब तक लगभग 50 लोगों की मौत हो गई है जबकि अनगिनत घायल हैं।’’

कश्मीर घाटी में सुरक्षा बलों और प्रदर्शनकारियों के बीच झड़पों में अब तक 49 लोगों की मौत हो गई है जबकि लगभग 5,600 लोग घायल हैं। इस स्थिति की जिम्मेदारी नहीं लेने के लिए उमर ने मुख्यमंत्री महबूबा पर भी हमला बोला। पूर्व मुख्यमंत्री उमर ने कहा, ‘‘उनके किस्म के नेतृत्व के साथ परेशानी यह है कि उनकी गलती तो कभी होती ही नहीं है, दोषारोपण हमेशा दूसरों पर होता है।’’

निजी समाचार चैनल पर साक्षात्कार में महबूबा ने कहा था, ‘‘ऐसी कई ताकतें साथ आ गई हैं जो माहौल को बिगाड़ना चाहती हैं। वे विभिन्न इलाकों में बच्चों को भेजकर परेशानी खड़ी करना चाहते हैं।’’ एक परीक्षा केंद्र पर मुख्यमंत्री के खिलाफ प्रदर्शन हुए थे। इस पर उमर ने कहा, ‘‘मुझे समझ नहीं आ रहा कि मुख्यमंत्री परीक्षा केंद्र पर क्या करने गई थीं?’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App