ताज़ा खबर
 

पाकिस्तान को सेना की जानकारी देने वाला जासूस पकड़ा गया, सुरक्षा बलों की तैनाती दिखाने वाला नक्शा बरामद

आरोपी के खिलाफ गैरकानूनी गतिविधियों (रोकथाम) कानून की धारा 13 और सरकारी गोपनीयता कानून के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है।

Author जम्मू | Updated: October 22, 2016 11:56 AM
Pakistan US, Pakista US kashmir, Loc Indo pak, Kashmir Loc Pak, Pakistan US Locतस्वीर का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

पाकिस्तान की ओर सुरक्षा बलों की तैनाती और उनकी गतिवधियों संबंधी महत्वपूर्ण जानकारी देने के आरोप में जम्मू कश्मीर के साम्बा जिले से एक पाकिस्तानी जासूस को गिरफ्तार किया गया। उसके पास से पाकिस्तान के दो सिम कार्ड और सुरक्षा बलों की तैनाती दिखाने वाला एक नक्शा बरामद हुया है। साम्बा के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जोगिन्दर सिंह ने कहा, ‘सेना की खुफिया इकाई से जम्मू जिले के चंगिया गांव के रहने वाले बोध राज नामक व्यक्ति के जासूसी गतिविधियों में शामिल होने अ‍ैर सुरक्षा बलों की तैनाती संबंधी महत्वपूर्ण जानकारी देने की सूचना मिली थी। जिसके आधार पर साम्बा के रामगढ़ सेक्टर में एक विशेष तलाशी अभियान चलाया गया।’ पुलिस अधीक्षक ने बताया, ‘तलाशी अभियान के दौरान राज को अंतरराष्ट्रीय सीमा (आईबी) के करीब जेरदा गांव में रहस्यमय परिस्थितियों में घूमते हुए पाया गया। पुलिस दल की हरकत देखने के बाद उसने वहां से भागने का प्रयास किया।’

उन्होंने बताया, ‘पुलिस ने उसका पीछा किया और बाद में उसे गिरफ्तार कर लिया।’ उन्होंने बताया कि उसके पास से पाकिस्तान के दो सिम कार्ड, सुरक्षा बलों की तैनाती दिखाने वाला एक नक्शा, दो भारत निर्मित मोबाइल फोन और मेमोरी कार्ड बरामद हुआ है। इसके अलावा उसके पास से 1711 रुपए भी मिले हैं। पुलिस अधिकारी ने बताया कि आरोपी के खिलाफ गैरकानूनी गतिविधियों (रोकथाम) कानून की धारा 13 और सरकारी गोपनीयता कानून के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है। शुरुआती पूछताछ के अनुसार उसने नक्शे में विभिन्न स्थानों को चिह्नित करने की बात मान ली है। सुरक्षा एजेंसियां संयुक्त रूप से इस मामले की जांच कर रही हैं।

Next Stories
1 जम्मू कश्मीर: जैश ए मोहम्मद के दो आतंकी पकड़े गए, AK-47, पिस्टल और गोलियां बरामद
2 जम्मू कश्मीर: पाकिस्तानी जासूस दबोचा गया, मिले PAK के सिम कार्ड और भारतीय नक्शे
3 जम्मू कश्मीर: पुलिस और सरकार के सामने हैं दो चुनौतियां- बढ़ते विरोध प्रदर्शन और आतंकवाद में उछाल
ये पढ़ा क्या?
X