killing of army officer umar fayaz: jammu kashmir police releases photos of hizbul militants Ishfaq Ahmad Thokar Gayas-ul-Islam and Abbas Ahmad Bhat - इन तीन आतंकियों ने किया था फयाज का बेरहमी से कत्‍ल, सुराग देने वालों को इनाम देगी सरकार - Jansatta
ताज़ा खबर
 

इन तीन आतंकियों ने किया था फयाज का बेरहमी से कत्‍ल, सुराग देने वालों को इनाम देगी सरकार

पुलिस ने उमर फयाज की हत्या के मामले में तीन संदिग्धों की तस्वीरें जारी कर उन पर इनाम की घोषणा की है।

हिजबुल के तीन संदिग्ध जिन पर पुलिस ने रखा इनाम।

जम्‍मू-कश्मीर के शोपियां जिले में आतंकियों ने 22 साल के भारतीय सेना के जवान उमर फयाज की हत्या कर दी थी। बर्बर आतंकियों  ने फयाज को गोलियों से छलनी कर दिया था। इस मामले में पुलिस ने हिजबुल मुजाहिद्दीन के तीन संदिग्धों की तस्वीरें जारी की हैं। पुलिस ने फयाज की हत्या के मामले में इन हिजबुल संदिग्धों की पहचान की है और उन पर इनाम की घोषणा भी की है। तीनों संदिग्धों के नाम इशफाक अहमद, ग्यस्सुल इस्लाम और अब्बास अहमद हैं। पुलिस को शक है कि ये उस संगठन का हिस्सा थे जिसने फयाज को शादी से अगवा कर उसकी हत्या कर दी थी। संदिग्धों के पोस्टर दक्षिणी कश्मीर के कई इलाकों में लगाए गए हैं।

उमर फयाज अपने मामा की बेटी की शादी में शामिल होने के लिए शोपियां गया था। चश्मदीदों और रिपोर्ट्स के मुताबिक फयाज दुल्हन के पास ही बैठा था जब आतंकी उसे घर से बाहर खीचकर ले गए और फिर उसकी हत्या कर दी। वहीं हिंदुस्तान टाइम्स की खबर के मुताबिक अधिकारियों ने बताया कि अब्बास एक हत्या के केस में पांच साल की सजा काट चुका है। 2016 में अब्बास  बेल पर बाहर था और फिर फरार हो गया। वहीं खबर के मुताबिक इशफाक और इस्लाम संगठन में हाल ही में शामिल हुए हों।

बता दें हाल ही में लेफ्टिनेंट उमर फयाज पहली छुट्टी पर अपने घर गए थे। कुलगाम जिले के फयाज पुणे की नेशनल डिफेंस एकेडमी में 129वें बैच के कैडेट थे। हाल ही में सेना में शामिल होने के बाद अखनूर एरिया में उनकी तैनाती अपनी यूनिट के पास 25 मई को होनी थी। दक्षिणी कश्मीर के शोपियां जिले में बुधवार को उमर फैयाज का गोलियों से छलनी शव मिला।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App