scorecardresearch

कश्मीर: जाकिर मूसा का नया साथी गुलाम हसन वानी है “सेक्सुअल परवर्ट”, पुलिस ने बताई आतंकी बनने से पहले की करतूतें

जम्मू-कश्मीर के पुलिस अफसर ने कहा कि “एक बार वानी को उसके पड़ोसियों ने उसके पालतू जानवर के साथ सेक्स करते हुए पकड़ा गया था।”

ghulam hassan wani
गुलाम हसन वानी को पुलिस ने मदरसे में बच्चों का यौन शोषण करने का आरोप में गिरफ्तार किया था।
आतंकवादी संगठन हिज्बुल मुजाहिद्दीन में बुरहान वानी की जगह लेने वाले जाकिर मूसा ने घाटी में 200 नौजवानों को आतंकी संगठन में शामिल करने का लक्ष्य रखा है। जाकिर मूसा ने हाल ही में गुलाम हसन वानी नामक एक युवक को आतंकी संगठन में भर्ती कराया जिस पर बच्चों के यौन शोषण और अप्राकृतिक यौनाचार का आरोप लग चुका है। वानी दक्षिण कश्मीर के दल्लीपुरा का रहने वाला है। इंडिया टुडे की रिपोर्ट के अनुसार पुलिस ने वानी के एक स्थानीय मदरसों में कुछ लड़कों का यौन शोषण के आरोप में गिरफ्तार किया था। हालांकि उन बच्चों के माता-पिता ने पुलिस में आधिकारिक शिकायत नहीं दर्ज कराई थी।

जम्मू-कश्मीर पुलिस के एक अफसर ने इंडिया टुडे से कहा कि बच्चों की पहचान छिपाने के लिए पुलिस ने मामला दबा दिया। पुलिस अफसर के अनुसार वानी जाना-माना “परवर्ट” है। पुलिस अफसर ने कहा कि “एक बार वानी को उसके पड़ोसियों ने उसके पालतू जानवर के साथ सेक्स करते हुए पकड़ा गया था।” मूसा दक्षिण कश्मीर का रहने वाला है। खबरों के अनुसार मूसा हिज्बुल मुजाहिद्दीन के सरगना सैयद सलाहुद्दीन से मतभेद के बाद आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट से जुड़ गया है। रिपोर्ट के अनुसार हिज्बुल से अलग होने के बाद से मूसा नए लोगों को अपने साथ जोड़ने की जीतोड़ कोशिश कर रहा है और अभी तक वो केवल 12 युवाओं को अपने साथ जोड़ सका है।

पिछले कुछ महीनों में जाकिर मूसा के कई वीडियो सोशल मीडिया पर सामने आए हैं। इन वीडियो में वो भारतीय मुसलमानों से जिहाद में शामिल होने की अपील की थी। मूसा ने एक वीडियो में जम्मू-कश्मीर पुलिस में शामिल होने के खिलाफ भी अपील की थी। खबरों के अनुसार हिज्बुल चीफ से मूसा की अनबन उसके बड़बोले बयानों की वजह से ही हुई और उसके बाद वो इस्लामिक स्टेट में शामिल हो गया। रिपोर्ट के अनुसार मूसा ने एक व्हाट्सऐप ग्रुप में आठ जुलाई को संदेश दिया था कि वो त्राल में 450 नौजवावों को आतंकी संगठन में भर्ती करने वाला है। हालांकि बाद में सुरक्षा एजेंसियों ने ऐसी खबरों को बकवास बताते हुए इसे केवल प्रचार का हथकंडा बताया था।

देखें खबर का वीडियो-

पढें श्रीनगर (Srinagar News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.