ताज़ा खबर
 

कश्मीर हिंसा: कुछ इलाक़ो में कर्फ्यू जारी, मोबाइल इंटरनेट सेवाएं अब भी निलंबित

हिंसा से जूझ रही घाटी में 49 लोग मारे जा चुके हैं और 5600 से ज्यादा लोग घायल हो चुके हैं।

Author श्रीनगर | August 1, 2016 5:04 PM
Kashmir Violence, Kashmir News, Kashmir Curfew, national Conference, Centre Govtकश्मीर में स्थिति को संभालने के लिए तैनात सुरक्षाबलों के जवान। (Photo Source: Indian Express/Shuaib Masoodi)

घाटी के कुछ हिस्सों में सोमवार (1 अगस्त) को भी कर्फ्यू जारी रहने और बाकी हिस्सों में कानून और व्यवस्था बनाए रखने के लिए प्रतिबंध लागू रहने से जनजीवन लगातार 24वें दिन अस्त-व्यस्त रहा। पुलिस के एक अधिकारी ने कहा कि शहर के पांच पुलिस थाना क्षेत्रों और अनंतनाग शहर में कर्फ्यू लगा रहा। पूरे कश्मीर में चार या इससे ज्यादा लोगों के एक स्थान पर जुटने पर प्रतिबंध जारी रहा। उन्होंने कहा, ‘श्रीनगर के सिर्फ पांच पुलिस थाना क्षेत्रों – नौहाटा, खान्यार, रैनावाड़ी, सफाकदल और महाराजगंज में कर्फ्यू लगा हुआ है।’ विरोध प्रदर्शनों के दौरान नागरिकों की मौतों के खिलाफ अलागवादियों की ओर से बुलाई गई हड़ताल के कारण लगातार 24वें दिन जनजीवन प्रभावित हुआ। ये विरोध प्रदर्शन आठ जुलाई को एक मुठभेड़ में सुरक्षा बलों के हाथों हिज्बुल मुजाहिदीन के कमांडर बुरहान वानी की मौत के बाद शुरू हुए थे।

घाटी में दुकानें, स्कूल, कॉलेज, कारोबारी प्रतिष्ठान और निजी दफ्तर बंद रहे जबकि सार्वजनिक यातायात सड़कों से गायब रहा। हिंसा से जूझ रही घाटी में 49 लोग मारे जा चुके हैं और 5600 से ज्यादा लोग घायल हो चुके हैं। पूरी घाटी में मोबाइल इंटरनेट सेवाएं अब भी निलंबित हैं जबकि सभी नेटवर्कों की पोस्टपेड मोबाइल फोन सेवाएं बहाल कर दी गई हैं। प्रीपेड कनेक्शनों पर इनकमिंग कॉल की सुविधा भी बहाल कर दी गई है लेकिन इन नंबरों से फोन किए नहीं जा सकते। अलगाववादियों के खेमे ने कश्मीर में बंद की अवधि को पांच अगस्त तक बढ़ा दिया है। इस खेमे ने शुक्रवार (29 जुलाई) को हजरतबल दरगाह के लिए मार्च का आह्वान किया है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 एलओसी के पास घुसपैठ की कोशिश नाकाम, एक आतंकी ढेर
2 श्रीनगर: पोस्टर लगाकर लड़कियों को दी धमकी, लिखा- स्कूटी चलाई तो कर देंगे आग के हवाले
3 काश मन की बात में प्रधानमंत्री कश्मीर में हालात का जिक्र करते: उमर
ये पढ़ा क्या?
X