ताज़ा खबर
 

जम्मू-कश्मीर: बख्शी स्टेडियम में स्वतंत्रता दिवस समारोह से दूर रही नेकां-कांग्रेस

प्रदेश कांग्रेस प्रमुख गुलाम अहमद मीर ने दिल्ली में इन खबरों को खारिज कर दिया कि कांग्रेस ने श्रीनगर के बख्शी स्टेडियम में राष्ट्रध्वज फहराए जाने के कार्यक्रम का बहिष्कार किया है।

Author श्रीनगर | August 15, 2016 22:57 pm
श्रीनगर के बख्शी स्टेडियम में आयोजित राजकीय स्वतंत्रता दिवस समारोह में जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती। (AP Photo/Dar Yasin)

विपक्षी नेशनल कांफ्रेंस (नेकां) सोमवार (15 अगस्त) को यहां बख्शी स्टेडियम में स्वतंत्रता दिवस समारोह से दूर रही जबकि कांग्रेस ने दावा किया कि इसके नेता शहर के कुछ हिस्सों में लगे सख्त कर्फ्यू के चलते आयोजन स्थल तक नहीं पहुंच सके। नेशनल कांफ्रेंस के महासचिव अली मोहम्मद सागर ने बताया, ‘हमने कार्यक्रमों से दूर रहने का फैसला किया क्योंकि कश्मीर के लोग अब महीने भर से अधिक समय से कैद हैं और घाटी में हालात में अब तक कोई सुधार नहीं हुआ है।’ उन्होंने बताया कि पार्टी ने केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह की घाटी की यात्रा के दौरान उन्हें एक ज्ञापन सौंपा था लेकिन नेकां प्रतिनिधिमंडल को दिए उनके आश्वासन के बावजूद कुछ भी नतीजा नहीं निकला।

सागर ने बताया, ‘हमने ‘पेलेट गन’ का इस्तेमाल रोकने और हालत में सुधार के लिए अन्य कदम उठाने को कहा था।’ उन्होंने बताया कि गृहमंत्री ने आश्वासन दिए थे लेकिन कुछ नहीं हुआ। वहीं, कांग्रेस के एक प्रवक्ता ने बताया कि उनकी पार्टी का कोई भी नेता शहर में लगे सख्त कर्फ्यू के चलते बख्शी स्टेडियम नहीं पहुंच सका। हालांकि, प्रवक्ता ने बताया कि राष्ट्र ध्वज फहराने और स्वतंत्रता दिवस मनाने के लिए लाल चौक इलाके में मौलाना आजाद रोड स्थित इसके मुख्यालय में एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। उन्होंने स्वीकार किया कि पार्टी नेताओं को बख्शी स्टेडियम के कार्यक्रम के लिए आमंत्रित किया गया था। बख्शी स्टेडियम के लिए आमंत्रित लोगों को पहुंचने की इजाजत दी गई जबकि लाल चौक और आसपास के इलाकों की ओर जाने वाले लोगों पर कई पाबंदी थी।

प्रदेश कांग्रेस प्रमुख गुलाम अहमद मीर ने दिल्ली में इन खबरों को खारिज कर दिया कि कांग्रेस ने श्रीनगर के बख्शी स्टेडियम में राष्ट्रध्वज फहराए जाने के कार्यक्रम का बहिष्कार किया है। उन्होंने बताया कि वह इस बात से वाकिफ नहीं हैं कि समारोह में भाग लेने के लिए पार्टी के किसी विधायक या एमएलसी को आमंत्रण पत्र दिया गया था और पर्याप्त सुरक्षा मुहैया की गई थी या नहीं। मीर ने बताया कि उन्हें कार्यक्रम के लिए राज्य सरकार से आमंत्रण मिला था और लंबे समय से विधायक होने और एक वरिष्ठ पूर्व केंद्रीय मंत्री होने के बावजूद 13 वीं पंक्ति की सीट दी गई थी। कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने बताया कि सत्तारूढ़ पीडीपी राज्य में लंबे समय से कांग्रेस को अपमानित कर रही है जबकि वह एक प्रमुख राष्ट्रवादी ताकत है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App