ताज़ा खबर
 

आतंकवादियों ने शोपियां में जवान को अगवा कर हत्या की, उपमुख्यमंत्री ने कहा- मानवता के खिलाफ अपराध

जवान उस समय छुट्टी पर था। सेना के एक अधिकारी ने बताया कि जवान का गोली लगा शव शोपियां के वतमुल्लाह कीगम में एक बगीचे से बरामद किया गया।

Author श्रीनगर | November 26, 2017 04:08 am
कश्मीर में तैनात भारतीय सेना के जवान। (File Photo)

दक्षिणी कश्मीर के शोपियां जिले में आतंकवादियों ने प्रादेशिक सेना के 23 वर्षीय एक जवान का अपहरण करने के बाद उसकी हत्या कर दी। जवान उस समय छुट्टी पर था। सेना के एक अधिकारी ने बताया कि जवान का गोली लगा शव शोपियां के वतमुल्लाह कीगम में एक बगीचे से बरामद किया गया।
उन्होंने बताया कि मृत जवान की पहचान इरफान अहमद डार के रूप में हुई है। वह शोपियां में सेजान के रहनेवाले थे। श्रीनगर में रक्षा प्रवक्ता कर्नल राजेश कालिया ने कहा कि डार उत्तरी कश्मीर के बांदीपुरा जिले में तैनात थे। कालिया ने बताया कि डार 26 नवंबर तक छुट्टी पर थे। रक्षा प्रवक्ता ने कहा कि छुट्टी के दौरान ही आतंकवादियों ने डार का अपहरण कर लिया और उनकी हत्या कर दी। उन्होंने कहा कि पुलिस मामले में जांच कर रही है।

जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने डार की हत्या की ंिनदा की है। महबूबा ने ट्विटर पर लिखा, ‘शोपियां में प्रादेशिक सेना के एक बहादुर जवान की बर्बर हत्या की कड़ी निंदा करती हंू। इस तरह की नृशंस गतिविधि घाटी में शांति स्थापित करने के हमारे संकल्प को कमजोर नहीं करेगी।’ जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने भी जवान की हत्या की निंदा की। उन्होंने ट्वीट किया, ‘युवा इरफान डार की हत्या काफी दुखद और निंदनीय है। परिवार के प्रति मेरी दिली संवेदना।’ वहीं जम्मू कश्मीर के उपमुख्यमंत्री निर्मल सिंह ने जवान की आतंकवादियों द्वारा की गई हत्या की निंदा की और कहा कि ऐसे जघन्य अपराधों को अंजाम देने वालों को करारा जवाब दिया जाना चाहिए। उपमुख्यमंत्री ने घटना को दुर्भाग्यपूर्ण और मानवता के खिलाफ अपराध करार देते हुए कहा कि इस प्रकार की घटनाओं को अंजाम देने वाले अपराधियों को अलग थलग करने और उन्हें सबक सिखाने की जरूरत है।

 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App