ताज़ा खबर
 

कश्मीर: 60 घंटे बाद पुंछ मुठभेड़ खत्म, लगे हिंदुस्तान जिंदाबाद, आर्मी जिंदाबाद और पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे

जम्मू कश्मीर के पुंछ में लगभग 60 घंटों से चल रही मुठभेड़ आखिर खत्म हो गई। सुरक्षा जवानों ने वहां छिपे दो आतंकियों को मार गिराया। ये मुठभेड़ पुंछ के मिनी सचिवालय में चल रही थी।

जम्मू कश्मीर के पुंछ में मुठभेड़ के दौरान खड़े सुरक्षा जवान।

जम्मू कश्मीर के पुंछ में लगभग 60 घंटों से चल रही मुठभेड़ आखिर खत्म हो गई। सुरक्षा जवानों ने वहां छिपे दो आतंकियों को मार गिराया। ये मुठभेड़ पुंछ के मिनी सचिवालय में चल रही थी। यह बिल्डिंग निर्माणधीन थी। सुरक्षा जवानों ने अंदर जाने के लिए IED की मदद से एक धमाका भी किया था। यह धमाका बिल्डिंग की दीवार पर किया गया था ताकी वहां एक सुराख बन जाए जिसकी मदद से सुरक्षा जवान अंदर दाखिल हो सकें। सुरक्षा जवान मुख्य दरवाजे से अंदर नहीं जा सकते थे क्योंकि उसे बम लगाकर बंद किया गया था। अगर उसे खोलने की कोशिश की जाती तो धमाका हो जाता। सुरक्षा जवानों का बम की मदद से सुराख करने का प्लान सफल रहा और ऑपरेशन भी। जिस बम से सुरक्षा जवानों ने धमाका किया वह 60 किलो विस्फोटक सामग्री से बना था। वहां आसपास रहने वाले लोग भी इस ऑपरेशन को देखने के लिए छतों पर चढ़े हुए देखे गए। सुराख होने के तुरंत बाद सुरक्षा जवान बिल्डिंग में दाखिल हो गए। इस बिल्डिंग में आतंकियों को ढूंढना इतना आसान नहीं था। क्योंकि इसमें 87 कमरे, 25 बाथरूम और 8 अंडरग्राउंड पानी के टैंक हैं।

यह मुठभेड़ रविवार से लगातार चल रही थी। रविवार से अबतक कुल 6 आतंकी मारे गए। 6 में से दो आंतकी आर्मी के हेडक्वाटर के पास जोगिंदर पैलेस में मारे गए थे। पठानकोट हमले के बाद यह दूसरी सबसे लंबी मुठभेड़ थी। वह मुठभेड़ एक हफ्ते तक चली थी।

लोगों ने मनाई खुशी: ऑपरेशन खत्म होते ही हजारों की संख्या में हिंदू और मुस्लिम लोग इस बिल्डिंग में घुस गए और उन्होंने ‘आर्मी जिंदाबाद’, ‘हिंदुस्तान जिंदाबाद’ के नारे लगाने शुरू कर दिए थे। ‘पाकिस्तान मुर्दाबाद’ के भी नारे लगे। ऑपरेशन के सफल होने का जश्न मना रहे लोगों को संभालना वहां की पुलिस के लिए आसान नहीं रहा।

Read Also: बकरीद पर पाक PM शरीफ का भड़काऊ बयान, कहा- कश्मीरियों के बलिदान को नहीं करेंगे नजरअंदाज

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App