ताज़ा खबर
 

कश्मीर हिंसा: CPI ने BJP-PDP सरकार की निंदा, कहा- पैलेट गन पर तुरंत रोक लगाए सरकार

भाकपा ने यह भी कहा कि जम्मू कश्मीर के लोगों को भी शांति और सौहार्द की बहाली के लिए काम करना चाहिए।

Author नई दिल्ली | July 18, 2016 8:20 PM
भारतीय कम्यूनिस्ट पार्टी। (फाइल फोटो)

घाटी में जारी अशांति पर ‘‘जानबूझकर चुप्पी’’ साधने के लिए जम्मू और कश्मीर में सत्तारूढ़ पीडीपी-भाजपा सरकार पर प्रहार करते हुए भाकपा ने केंद्र से कहा कि राज्य में शांति बहाल करने के लिए सर्वदलीय बैठक बुलाई जाए। पार्टी का कहना है कि वहां स्थिति ‘‘महज कानून व्यवस्था’’ की नहीं है। इस मुद्दे पर अपनी राष्ट्रीय परिषद् द्वारा पारित प्रस्ताव में भाकपा ने घटना की न्यायिक जांच की भी मांग की है। पार्टी की राष्ट्रीय परिषद् की बैठक 15 जुलाई से 17 जुलाई तक हुई।

प्रस्ताव में कहा गया है, ‘‘राज्य में सत्तारूढ़ गठबंधन और केंद्र सरकार की जानबूझकर चुप्पी से राज्य के शांतिपूर्ण माहौल को काफी नुकसान हुआ है।’’ इसमें कहा गया है, ‘‘…भाकपा स्थिति से निपटने में पीडीपी…भाजपा सरकार की कड़ी निंदा करती है और राज्य में शांति बहाली के लिए सर्वदलीय बैठक बुलाने की हमारी मांग को दोहराती है।’’ भाकपा ने मांग की कि सुरक्षा बल प्रदर्शनकारियों पर ‘‘दमनात्मक’’ तरीके नहीं अपनाएं और पैलेट गन के इस्तेमाल पर तुरंत रोक लगाने की मांग की जिसे वामपंथी दल ‘‘काफी निंदनीय’’ मानते हैं।
साथ ही भाकपा ने यह भी कहा कि जम्मू…कश्मीर के लोगों को भी शांति और सौहार्द की बहाली के लिए काम करना चाहिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App