ताज़ा खबर
 

बुरहान वानी की बरसी: अलगाववादियों ने किया बंद का ऐलान, प्रशासन ने इंटरनेट सर्विस पर लगाई पाबंदी

बुरहान वानी पिछले साल अनंतनाग जिले के कोकेरनाग क्षेत्र में सुरक्षा बलों के साथ हुई मुठभेड़ में वानी मारा गया था।
22 वर्षीय बुरहान वानी सोशल मीडिया पर कश्‍मीर में आतंकवाद का पोस्‍टर बॉय था।

हिजबुल कमांडर बुरहान वानी के मारे जाने के एक साल पूरा होने के चलते प्रशासन ने घाटी में सुरक्षा और कड़ी कर दी है, ताकि इस दिन कोई अप्रिय घटना ना हो। वहीं बुरहान की मौत को एक साल पूरा होने के उपलक्ष्य में हुर्रियत नेताओं और हिजबुल मुखिया सय्यद सलाहुद्दीन ने एक दिन के लिए बंद और हफ्ते भर के विरोध-प्रदर्शन का आह्वान किया है। इसे देखते हुए प्रशासन ने इंटरनेट व ब्रॉडबैंड सेवाओं को बंद कर दिया और श्रीनगर के कुछ हिस्सों में कर्फ्यू जैसा प्रतिबंध लगा दिया। बुरहान वानी की मौत को शनिवार 8 जुलाई 2017 को एक साल पूरा हो जाएगा।

वानी पिछले साल अनंतनाग जिले के कोकेरनाग क्षेत्र में सुरक्षा बलों के साथ हुई मुठभेड़ में वानी मारा गया था। वानी के मारे जाने के बाद घाटी 54 दिनों तक अशांत रही, जिसमें 94 प्रदर्शनकारियों की जान गई और 200 से ज्यादा घायल हुए। सभी प्रमुख अलगाववादी नेताओं को या तो हिरासत में लिया गया है या उन्हें घर में नजरबंद रखा गया है, ताकि वे घाटी में आहूत विरोध-प्रदर्शनों में हिस्सा नहीं ले सकें।

श्रीनगर के जिला अधिकारी फारूक अहमद लोन ने शहर में पांच पुलिस थानों- रैनावारी, नौहट्टा, एम.आर. गंज, खानयार, सफा कदल के अंतर्गत आने वाले इलाकों में प्रतिबंध लगा दिए हैं। कश्मीर जोन के पुलिस महानिरीक्षक (आईजीपी) मुनीर अहमद खान ने मोबाइल और लैंडलाइन ब्रॉडबैंड कनेक्शन पर अनिश्चितकाल के लिए इंटरनेट सेवाएं बंद करने के निर्देश दिए हैं। केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने गुरुवार को जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा व्यवस्था को लेकर एक हाई लेवल मीटिंग बुलाई थी। इस मीटिंग में केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री हंसराज गंगाराम अहीर, गृह सचिव राजीव महर्षि, नेशनल सिक्योरिटी गार्ड के इंस्पेक्टर जनरल और अन्य वरिष्ठ अधिकारी शामिल थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.