ताज़ा खबर
 

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी का यह छात्र बन गया था आतंकी, सुरक्षाबलों ने किया ढेर

लीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी का पीएचडी छात्र वानी जनवरी में आतंकवादियों में शामिल हो गया था। आतंकियों संग हथियार लिए उसकी कुछ तस्वीरें भी सामने आईं थीं।

Author October 11, 2018 3:38 PM
मन्नान बशीर वानी, एएमयू के जियोलॉजी विभाग में रिसर्च कर रहा था। (फोटोः amu.ac.in)

जम्मू-कश्मीर के कुलगाम जिले में गुरुवार (10 अक्टूबर, 2018) को सुरक्षाबलों और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़ में भारतीय सेना ने हिजुबल के शीर्ष आतंकवादी कमांडर मन्नान बशीर वानी को मार गिराया है। अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी का पीएचडी छात्र वानी जनवरी में आतंकवादियों में शामिल हो गया था। आतंकियों संग हथियार लिए उसकी कुछ तस्वीरें भी सामने आईं थीं। मन्नान तीन जनवरी से लापता था। आतंकी संगठन में शामिल होने की खबरें सामने आने के एएमयू प्रशासन ने उसे निलंबित कर दिया था।

सूत्रों ने बताया कि सुरक्षाबलों ने शोधार्थी से आतंकवादी बने मन्ना वानी समेत तीन आतंकवादियों को उत्तर कश्मीर के सीमावर्ती जिले हंदवाड़ा में एक मुठभेड़ में घेर लिया गया था। अधिकारियों ने गुरुवार को बताया कि हंदवाड़ा में सतगुंड में चल रही मुठभेड़ स्थल से प्राप्त जानकारी के अनुसार पुलिस और अन्य सुरक्षा बलों ने एक गांव की घेराबंदी की। उन्हें वानी समेत दो आतंकवादियों के वहां मौजूद होने की खुफिया सूचना मिली थी। उन्होंने बताया कि पुलिस लगातार घोषणा करके आतंकवादियों से आत्मसमर्पण करने की अपील कर रही है। अधिकारियों ने बताया कि सुबह करीब नौ बजे गोलीबारी रुक गई जिसके बाद पुलिस ने मुठभेड़ स्थल पर तलाश अभियान शुरू किया लेकिन 15 मिनट बाद फिर से गोलीबारी शुरू होने के कारण खोज अभियान रोकना पड़ा।

इसके अलावा पंजाब पुलिस और जम्मू कश्मीर पुलिस के विशेष अभियान समूह ने एक संयुक्त अभियान में बीते बुधवार को तीन छात्रों को गिरफ्तार कर जालंधर में कश्मीरी आतंकी संगठन अंसार गजवात-उल-हिंद के मॉड्यूल का भंडाफोड़ किया है। पंजाब के पुलिस महानिदेशक सुरेश अरोड़ा ने यहां एक बयान में बताया कि जालंधर के बाहरी हिस्से शाहपुर में स्थित सीटी इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग मैंनेजमेंट एंड टेक्नोलॉजी के छात्रवास से छात्रों को पकड़ा गया है।

संयुक्त टीम ने बुधवार तड़के छात्रावास पर छापा मारा था। उन्होंने बीटेक (सिविल) के द्वितीय समेस्टर के छात्र जाहिद गुलजार के कमरे से एक असॉल्ट राइफल समेत दो हथियार और विस्फोटक जब्त किए हैं। गुलजार जम्मू कश्मीर में श्रीनगर के अवंतीपुरा के राजपुरा का रहने वाला है। गुलजार को मोहम्मद इदरिस शाह उर्फ नदीम और युसूफ रफीक भट के साथ गिरफ्तार किया गया है। शाह पुलवामा का रहने वाला है जबकि रफीक पुलवामा के नूरपुरा का निवासी है।

डीजीपी ने कहा कि यह गिरफ्तारियां विभिन्न जानकारियों के आधार की गई हैं। इस तरह की सूचनाएं थीं कि कुछ आतंकी संगठनों या व्यक्तियों की जम्मू कश्मीर और पंजाब में मौजूदगी है और वे गतिविधियां कर रहे हैं। इस संबंध में जालंधर के सदर थाने में मामला दर्ज किया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App