ताज़ा खबर
 

वीड‍ियो: कश्‍मीरी यून‍िवर्स‍िटी में राष्‍ट्रगान के दौरान बैठे-बैठे सेल्‍फी लेते रहे लड़के, व‍िवाद

इस समारोह में राज्य गवर्नर एनएन वोहरा, राजौरी के डिप्टी कमिश्नर, एसएसपी और यूनिवर्सिटी के उपकुलपति भी मौजूद थे।
इस मामले के सामने आने के बाद स्थानीय लोग इसे दुर्भाग्यपूर्ण बता रहे हैं और यूनिवर्सिटी छात्र राष्ट्रगान बजने के दौरान खड़े न होने वाले छात्रों के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहे हैं। (Photo Source: Twitter)

राष्ट्रगान को लेकर विवाद है कि थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। ताजा मामला जम्मू एंड कश्मीर के राजौरी के बाबा गुलाम शाह बादशाह यूनिवर्सिटी का है जहां पर कुछ छात्र राष्ट्रगान बजने के समय उसके सम्मान में बजाए खड़े होने के बैठे-बैठे सेल्फी खींचते रहे। टाइम्स नाउ के अनुसार यह घटना उस समय की है जब सभी छात्र सिल्वर रोलिंग ट्रॉफी के दौरान विदाई सामारोह में शरीक हुए थे। इस समारोह में राज्य गवर्नर एनएन वोहरा, राजौरी के डिप्टी कमिश्नर, एसएसपी और यूनिवर्सिटी के उपकुलपति भी मौजूद थे। इस घटना का एक वीडियो सामने आया है जिसमें अन्य लोग तो राष्ट्रगान के दौरान खड़े हुए दिखाई दे रहे हैं जबकि कुछ छात्र अपनी सीटों पर बैठकर सेल्फी खींचने में लगे हुए हैं।

इस मामले के सामने आने के बाद स्थानीय लोग इसे दुर्भाग्यपूर्ण बता रहे हैं और यूनिवर्सिटी छात्र राष्ट्रगान बजने के दौरान खड़े न होने वाले छात्रों के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहे हैं। छात्रों की इस हरकत से गुस्साए एक स्थानीय निवासी ने कहा कि राष्ट्रगान के सम्मान में खड़ा न होना चिंता का विषय है। सुप्रीम कोर्ट राष्ट्रगान को लेकर आदेश जारी कर चुका है फिर भी उसका अपमान करना बहुत ही गलत है। एक अन्य स्थानीय निवासी ने कहा कि जब समारोह शुरु हुआ तब भी ये छात्र राष्ट्रगान के सम्मान में खड़े नहीं हुए और जब समारोह खत्म हुआ तब भी वे नहीं खड़े हुए। यह जानकर किया गया एक कृत्य है। मैं चाहता हूं कि प्रशासन इस मुद्दे को गंभीरता से लेते हुए आरोपी छात्रों के खिलाफ कार्रवाई करे। इस तरह राष्ट्रगान का अपमान करना बहुत ही गलत है। इस तरह के छात्र हमारी यूनिवर्सिटी का नाम खराब कर रहे हैं।

आपको बता दें कि हाल ही में राज्य के किश्तवाड़ में राष्ट्रगान के सम्मान में न खड़े होने वाले एक अधिकारी का विरोध करने पर कुछ छात्रों पर लाठीचार्ज करने का मामला सामने आया था। एक समारोह के दौरान असिस्टेंट कमिश्नर अपने अंगरक्षकों के साथ कार्यक्रम में पहुंचे थे। जब वे कार्यक्रम में प्रवेश कर रहे थे तो उस समय राष्ट्रगान बज रहा था। असिस्टेंट कमिश्नर राष्ट्रगान सुनकर न तो रुके और वे अपनी जगह पर जाकर बैठ गए थे। इसका कई छात्रों ने विरोध किया तो उनपर लाठीचार्ज करा दिया गया था।

देखिए वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.