ताज़ा खबर
 

लाश बन चुके जिगर के टुकड़े को क्यों दूध पिला रही है मां, कश्मीर से आई तस्वीर हुई वायरल

अमीर अभी मुश्किल से एक ही हफ़्ते के लिए स्कूल गया था, क्योंकि 2016 में घाटी में तनाव के माहौल उसके बाद सर्दी की छुट्टियों के बाद उसके स्कूल अभी ही खुले थे।

अमीर नजीर की डेड बॉडी को दूध पिलाती उसकी मां, ये तस्वीर घाटी में चर्चा में है। (सोशल मीडिया)

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में आतंकियों के खिलाफ सुरक्षा बलों की कार्रवाई के दौरान 15 साल के एक लड़के अमीर नज़ीर की मौत हो गई थी। ये घटना पिछले गुरुवार की है। लेकिन इस लड़के से जुड़ी एक तस्वीर पूरी घाटी में वायरल हो रही है। इस तस्वीर में अमीर नज़ीर की डेड बॉडी रखी हुई है। लोग इस लड़के की बॉ़डी को घेरकर खड़े हैं इस बीच अमीर नज़ीर की मां एक चम्मच से लाश बन चुके अपने जिगर के टुकड़े को दूध पिलाती दिख रही है। इस तस्वीर ने कश्मीर के लोगों को झकझोर कर रख दिया है।

ख़बरों के मुताबिक पुलवामा के पदगमपोरा गांव में जब सुरक्षा बलों ने ऑपरेशन शुरू किया, तो उसी जगह पर सैकड़ों लोग जमा हो गये थे, ये लोग सेना की कार्रवाई का विरोध कर रहे थे, इनमें से कई लोग सुरक्षा बलों पर पत्थर भी फेंक रहे थे। 9वीं क्लास का छात्र अमीर नजीर भी इसी भीड़ में शामिल था। अमीर की मौत सुरक्षा बलों की ओर से चलाई गई गोली से हुई है। लेकिन अब ये विवाद और बहस का मुद्दा बन गया है कि क्या सेना ने उसे टारगेट कर के गोली चलाई थी या फिर अनजाने में ही सुरक्षा बलों की गोली उसे लग गई। इस घटना के बाद पदगमपोरा के लोग काफी गुस्से में हैं, सीएम महबूबा मुफ़्ती ने भी घटना से नाराजगी जताई है। इस ऑपरेशन में सेना ने 10 घंटे तक चले लंबे ऑपरेशन के बाद दो आतंकियों को मार गिराया था।

HOT DEALS
  • MICROMAX Q4001 VDEO 1 Grey
    ₹ 4000 MRP ₹ 5499 -27%
    ₹400 Cashback
  • Lenovo K8 Plus 32GB Venom Black
    ₹ 8925 MRP ₹ 11999 -26%
    ₹446 Cashback

अमीर नजीर के फेसबुक अकाउंट पर नज़र डालें तो वो एक बेहद जिंदादिल बच्चा था। उसे सेल्फी लेने का शौक था। उसकी जवानी अभी शुरू ही हुई थी और उसे ज़िंदगी के रंग बेहद पसंद थे। अमीर अभी मुश्किल से एक ही हफ़्ते के लिए स्कूल गया था, क्योंकि 2016 में घाटी में तनाव के माहौल उसके बाद सर्दी की छुट्टियों के बाद उसके स्कूल अभी ही खुले थे। लेकिन अब उसके घर में सन्नाटा पसरा हुआ है। आपको बता दें कि कुछ ही दिन पहले आर्मी चीफ बिपिन रावत ने जम्मू कश्मीर के लोगों से अपील की थी कि, स्थानीय लोग आतंकियों के ख़िलाफ़ कार्रवाई के दौरान बाधा उत्पन्न ना करें, अगर कोई ऐसा करता है तो आर्मी उसपर कार्रवाई करने को मज़बूर होगी।

जम्मू-कश्मीर: पुलवामा में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ में 2 आतंकी ढेर, 1 नागरिक की मौत

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App