ताज़ा खबर
 

पत्थरबाजी के आरोप में जेल में बंद कश्मीरी लड़के की उम्र पर विवाद, जम्मू-कश्मीर असेंबली में उठा मुद्दा

निर्दलीय विधायक राशिद ने सदन को गुमराह करने वाले दोषी अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की भी मांग की।

Author Updated: January 23, 2017 8:44 PM
kashmir, J&K, J&K civil society, civil society group, Jammu and Kashmir civil society, Pranab Mukherjee, AFSPA, pellet guns, pellet guns ban, india newsपत्थरबाजी के आरोप में पुलिस ने एक लड़के को गिरफ्तार किया है। उसकी उम्र पर विवाद छिड़ा है। (Express File Photo)

जम्मू-कश्मीर सरकार के चिकित्सा शिक्षा विभाग ने जेल में बंद एक लड़के की उम्र के बारे में विरोधाभासी रपट दी है। लड़के की गिरफ्तारी श्रीनगर में पत्थरबाजी के आरोप में हुई थी। फिलहाल वह पब्लिक सेफ्टी एक्ट के तहत हाई सिक्योरिटी जोन वाले भलवल जेल में बंद है। इस लड़के की उम्र से संबंधित विवाद का मामला आज जम्मू-कश्मीर विधानसभा में उठाया गया। निर्दलीय विधायक इंजीनियर अब्दुल राशिद ने आज (23 जनवरी को) मामले को उठाते हुए कहा कि लड़के की उम्र 14 साल है जबकि उसे 22 से 25 साल के बीच का बताया जा रहा है।

अब्दुल राशिद ने सदन को बताया कि उन्होंने 14 जनवरी को जेल में जाकर लड़के से मुलाकात की थी। सदन में श्रीनगर स्थित एक सरकारी मिडिल स्कूल के हेड मास्टर द्वारा जारी जन्म प्रमाण पत्र को दिखाते हुए उन्होंने कहा कि इस पर लड़के की उम्र 10 मार्च 2002 है, जबकि कार्रवाई करने वाले अधिकारी उसे 22 से 25 वर्ष का युवक ठहरा रहे हैं। इसके साथ ही विधायक राशिद ने सदन को गुमराह करने वाले दोषी अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की भी मांग की।

सदन में जब स्पीकर कविन्दर गुप्ता और संसदीय कार्य मंत्री ए आर वीरी ने मामले में उचित कार्रवाई का भरोसा दिलाया तभी अब्दुल राशिद अपनी सीट पर बैठे।

इसबीच, सरकारी सूत्रों ने बताया कि गवर्मेंट मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल और एसोसिएटेड हॉस्पिटल के डॉक्टरों की एक टीम ने सोमवार को कहा कि आरोपी लड़की की उम्र 19 से 21 साल के बीच है। गवर्मेंट मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल के प्रिंसिपल डॉ. जाहिद गिलानी ने कहा है कि उनकी रिपोर्ट लड़की जांच करने वाले फॉरेन्सिक मेडिसीन एक्सपर्ट, रेडियोलॉजिस्ट और डेंटल सर्जन के मत पर आधारित है। गवर्मेंट मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल के प्रिंसिपल ने अपनी रिपोर्ट गृह विभाग को सौंप दिया है।

Next Stories
1 गणतंत्र दिवस से पहले हिज्बुल ने वीडियो जारी कर सीएम महबूबा मुफ्ती को दी धमकी- ‘बिना सिक्योरिटी चलकर दिखाओ कश्मीर में’
2 विधानसभा में भाजपा विधायक ने पूछा सवाल, जम्‍मू-कश्‍मीर सरकार ने दिया जवाब- नोटबंदी से आतंकियों की फंडिंग पर कोई असर नहीं
3 कश्मीर ः स्कूल ने बच्चों को डांस और सिंगिंग सिखाने को कहा तो इंटरनेशनल फुटबॉलर ने दी नौकरी छोड़ने की धमकी
ये पढ़ा क्या?
X