ताज़ा खबर
 

फारूख अब्दुल्ला का आरोप-कश्मीरी युवकों को नागपुर ले जाकर ट्रेनिंग दे रहा RSS, बना रहा ‘एजेंट’

फारूख अब्दुल्ला ने कहा कि जम्मू के लोगों को आरएसएस और उसकी विचारधारा से लड़ना होगा।
नेशनल कांफ्रेंस नेता और जम्मू एवं कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूख अब्दुल्ला। (File Photo)

नेशनल कॉन्फ्रेंस पार्टी के अध्यक्ष और सांसद फारूख अब्दुल्ला ने आरोप लगाया है कि राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ घाटी के दूर-दराज के गांवों से युवाओं को नागपुर ले जाकर उनका ब्रेनवाश कर रहा है और उन्हें अपना एजेंट बना रहा है। अब्दुल्ला श्रीनगर में अपनी पार्टी की एक कॉन्फ्रेंस को संबोधित कर रहे थे, जिसमें उन्हें पार्टी का दोबारा से अध्यक्ष चुना गया है। अंग्रेजी अखाबर इकनॉमिक टाइम्स ने अपनी रिपोर्ट में लिखा है कि रविवार को नेशनल कॉन्फ्रेंस के हजारों कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए अब्दुल्ला ने कहा, ‘कुपवाड़ा जैसे गांवों से युवाओं को नई दिल्ली ले जाया जा रहा है और फिर उन्हें वहां से नागपुर भेज दिया जाता है। जहां पर उनका ब्रेनवाश किया जाता है और आरएसएस का एजेंट बनने की ट्रेनिंग दी जाती है। इनसे सावधान रहें और अपने क्षेत्र में होने वाली ऐसी गतिविधियों पर नजर रखें।’ उन्होंने कहा कि अब राज्य के लोगों को विशेषकर जम्मूवासियों को ‘संघी और आरएसएस विचारधारा’ से लड़ना होगा। अब्दुल्ला ने कहा, ‘अब हमारी विधानसभा से नहीं, बल्कि नागपुर से आदेश पारित होते हैं।’

अब्दुल्ला ने भाजपा नेता राम माधव पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा, ‘राम माधव मामा बने हैं कश्मीर के। कौन हैं वो? वह कश्मीर के बारे में क्या जानते हैं? वह बिना बुलेटप्रूफ कार के यात्रा करे और फिर बात करें। हम धर्मनिरपेक्ष हैं और रहेंगे और आपकी ताकत हमें नहीं दबा सकती। आप कितनों को जेल भेजेंगे? आप सोच रहे हैं कि हम डर जाएंगे। आप हमें नहीं डरा सकते। आप केवल हमें मार सकते हैं, लेकिन हमारे सिद्धांतों को कभी भी नहीं दबा सकते। हम नहीं डरेंगे।’

साथ ही उन्होंने केंद्र सरकार पर भी निशाना साधा। उन्होंने केंद्र सरकार पर आरोप लगाया है कि उसने कभी भी कश्मीर के लोगों की भावनाओं का सम्मान नहीं किया। साथ ही उन्होंने आरोप लगाया कि उनकी पार्टी नेशनल कॉन्फ्रेंस को तोड़ने की कोशिश भी की गई है। अब्दुल्ला ने पूछा, ‘कुछ लोगों को पाकिस्तान या अन्य हिस्सों से पैसे लेने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। अभी तक कुछ भी सार्वजनिक नहीं किया गया। मैं पूछना चाहता हूं कि नेशनल कॉन्फ्रेंस को तोड़ने के लिए जो पैसा नई दिल्ली से आया है, उसका क्या हिसाब है। वह पैसा किसको मिला है?’

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. V
    VP Misra
    Nov 1, 2017 at 7:57 pm
    श्री फ़ारूक़ अब्दुल्ला जी का सत्ता से दूर रहने के कारन मानसिक संतुलन बिगड़ गया है इसी कारन बहकी बहकी बातें कर रहे हैं - उन्होंने और कांग्रेस ने मिल कर अलगाओवादिओं को पाल कर और उनको सभी प्रकार की ायता करके देशद्रोह किया जिसे कारन वे और कांग्रेस नेता वैधानिक सजा पाने के पात्र हैं जिसके लिए उन सभी पर मुकदद्मा चलाया जाना चाहिए - श्री फ़ारूक़ अब्दुल्ला जी प्रारम्भ से ही पाकिस्तानी परस्त रहे हैं और शायद अपने मुख्य मंत्री शासन के दौरान उन्होंने पकिस्तानिओं को कश्मीर में आने जाने हेतु एक निति लागू करना चाहते थे जो केंद्रीय सर्कार को स्वीकार नहीं होने के कारन कार्यंवित नहीं हो पाई थी - बाबा से लेकर पोते तक ने कश्मीर को बर्बाद कर दिया जिसके कारन कश्मीरी पंडितों को कश्मीर से भागना पड़ा था - क्या श्री फ़ारूक़ अब्दुल्ला जी ने कभी सोंच की उनके पिता मरहूम शेख अब्दुल्ला को जेल में क्यों रआआअह्ना पड़ा था ?
    (0)(0)
    Reply