ताज़ा खबर
 

जम्मू-कश्मीर: BSF के वार से उड़ गया दुश्मन की सीमा में बना बंकर, देखें VIDEO

रिपोर्ट के मुताबिक आज पाकिस्तानी रेंजर्स के अधिकारियों ने जम्मू में बीएसएफ ऑफिसर्स से संपर्क साधा और उनके संघर्षविराम की अपील की। खबरों के मुताबिक पाकिस्तान की सीमा में बड़ी क्षति हुई है।

पाकिस्तान की सीमा में स्थित बंकरों पर हमले की एक तस्वीर।

जम्मू-कश्मीर में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर पाकिस्तान की ओर से की जा रही गोलीबारी का बीएसएफ ने मुंहतोड़ जवाब दिया है। भारत ने रॉकेट से बॉर्डर पर हमले किये और पाकिस्तान के कई बंकरों को नेस्तानाबूद कर दिया। समाचार एजेंसी एएनआई ने इससे जुड़ा एक वीडियो भी जारी किया है। बीएसएफ के सूत्रों के मुताबिक तीन दिन की लगातार गोलीबारी में पाकिस्तान को भयंकर नुकसान हुआ है। इसके बाद पाकिस्तान रेंजर्स को पीछे हटने पर मजबूर होना पड़ा है। बीएसएफ द्वारा जारी किये गये इस वीडियो में एक रॉकेट बड़ी तेज गति से अपने लक्ष्य की ओर बढ़ता दिख रहा है। जैसे ही ये रॉकेट पाकिस्तानी सीमा में बंकर को हिट किया, एक जोरदार धमाका हुआ, और बंकर मिट्टी में मिल गया। बीएसएफ द्वारा जारी किये गये वीडियो में ब्लैक एंड व्हाइट फुटेज है। ऐसा लगता है ये वीडियो इंफ्रारेड कैमरे से रिकॉर्ड किया गया है।

सूत्रों के मुताबिक बीएसएफ के जवाब से पाकिस्तानी रेंजर्स में खलबली मच गई है। रिपोर्ट के मुताबिक आज पाकिस्तानी रेंजर्स के अधिकारियों ने जम्मू में बीएसएफ ऑफिसर्स से संपर्क साधा और उनके संघर्षविराम की अपील की। खबरों के मुताबिक पाकिस्तान की सीमा में बड़ी क्षति हुई है।
बीएसएफ के आईजी राम अवतार ने शुक्रवार को कहा, “यदि वे हमें निशाना बनाते हैं तो उन्हें माकूल जवाब दिया जाएगा, हमें आशंका थी कि पाकिस्तान की ओर से फायरिंग की जाएगी, क्योंकि फसलों की कटाई खत्म हो गई है, वो हमेशा ही ऐसा करते हैं।”

रिपोर्ट के मुताबिक बीएसएफ ने हमला रणनीतिक महत्व के ‘चिकन नेक’ इलाके में किया है। ये इलाक जम्मू से 30 किलोमीटर दूर अखनूर में स्थित है। इस क्षेत्र की भौगोलिक बनाटक ऐसी है कि ये एरिया तीन तरफ से पाकिस्तानी सीमा से घिरा हुआ है। बता दें कि शुक्रवार (18 मई) को पाकिस्तान के हमले में बीएसएफ के के जवान सीताराम शहीद हो गये थे। तब भी भारत ने पाकिस्तान की इस हिमाकत का करारा जवाब दिया था। 15 मई को भी पाकिस्तान के हमले में बीएसएफ जवान देवेन्दर सिंह शहीद हो गये थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App