ताज़ा खबर
 

महिला अलगाववादी नेता ने मारे गए आतंकवादियों को बताया ‘भाई’

करीब 32 घंटे की जवाबी कार्रवाई में भारतीय सुरक्षा बलों ने आज (13 फरवरी) लश्कर-ए-तैयबा के दो आतंकियों को मुठभेड़ में ढेर कर दिया था।
अलगाववादी नेता आसिया अंद्राबी। (फाइल फोटो)

जम्मू-कश्मीर की अलगाववादी नेता और दुख्तरान-ए-मिल्लत की संस्थापक आसिया अंद्राबी ने सुरक्षाबलों की जवाबी कार्रवाई में मारे गए लश्कर के आतंकियों को भाई बताया है और उसके समर्थन में ट्वीट किया है। अपने ट्वीट में आसिया अंद्राबी ने लिखा है, “मेरे जांबाज मुजाहिद्दीन भाइयों ने करीब तीस घंटे तक भयंकर ठंड में लगातार भारतीय सैनिकों से लोहा लिया और कई सैनिकों को मार गिराया। भारतीय सैनिकों ने बहुत कोशिश की कि टूट जाए लेकिन ऐसा नहीं हुआ। अब वो शहीद हुए हैं। उन्हें हम सैल्यूट करते हैं।” बता दें कि करीब 32 घंटे की जवाबी कार्रवाई में भारतीय सुरक्षा बलों ने आज (13 फरवरी) लश्कर-ए-तैयबा के दो आतंकियों को मुठभेड़ में ढेर कर दिया था। ये दोनों आतंकी सोमवार को श्रीनगर के करण नगर में सीआरपीएफ की 23वीं बटालियन के मुख्यालय में घुसपैठ करने की कोशिश कर रहे थे, तभी जवान एमएम खान ने उसकी कोशिश को विफल कर दिया।

अपनी कोशिश विफल होते देख एके-47 रायफल से लैश आतंकियों ने एमएम खान पर गोलियां बरसा दीं, जिसमें खान घायल हो गए और बाद में उनकी मौत हो गई। इस बीच मौके का फायदा उठा दोनों आतंकी रिहायशी इलाके की एक बिल्डिंग में जा छिपे। बीती रात भी आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच रुक-रुककर गोलीबारी होती रही। अंतत: भारतीय सुरक्षाबलों ने आज दोनों आतंकियों को ढेर कर दिया।

आसिया अंद्राबी कश्मीर में महिलाओं द्वारा होने वाले विरोध की अगुवाई करती है। अंद्राबी पर पाकिस्तान के साथ मिलकर काम करने के आरोप भी लगते रहे हैं। उनके संगठन दुख़्तरान-ए-मिल्लत को कश्मीर में इस्लामी कानून लागू करने और अलगाववादी हरकतों की वजह से भारत सरकार ने आतंकवादी संगठन घोषित कर रखा है। पिछले साल ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ कैम्पेन के तहत मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती के साथ-साथ आसिया अंद्राबी की भी तस्वीर छपी थी जिस पर खूब हल्ला हुआ था। बाद में कार्रवाई करते हुए पोस्टर लगाने वाले अधिकारी पर गाज गिरी थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App