ताज़ा खबर
 

कश्‍मीर: मुठभेड़ में चार फिदायीन मारे गए, पुलिस का दावा- उड़ी जैसा हमला रोका

पुलिस ने इस बात की पुष्टि नहीं की है कि यह आतंकवादी पाकिस्तान प्रशासित कश्मीर से घाटी में घुसपैठ करके आए थे या काफी समय से यहीं रह रहे थे।
Author September 25, 2017 13:04 pm
सांकेतिक तस्वीर।

जम्मू एवं कश्मीर के सीमावर्ती शहर उड़ी में रविवार को सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच जारी गोलीबारी में चार पाकिस्तानी ‘फिदायीन’ ढेर हो गए। घंटों चली मुठभेड़ में एक जवान और चार नागरिक घायल हो गए। एक पुलिस अधिकारी ने रविवार को यह जानकारी दी। अधिकारी ने कहा, “बारामूला जिले के उड़ी इलाके में चार पाकिस्तानी फियादीन आतंकवादियों को मार दिया गया है।” पुलिस महानिदेशक एस.पी. वैद ने कहा कि इन आतंकवादियों की योजना आत्मघाती हमला करने की थी और उनके मारे जाने से एक बड़े हमले को टाला गया है। पुलिस ने बताया कि कलगी वन क्षेत्र में आतंकवादियों के छिपे होने की सूचना मिलने के बाद सुरक्षा बलों ने एक अभियान शुरू किया। एक पुलिस अधिकारी ने कहा, “सुरक्षा बलों द्वारा घेराबंदी करने पर आतंकवादियों ने सुरक्षाबलों पर गोलीबारी शुरू कर दी, जिसके बाद दोनों ओर से मुठभेड़ शुरू हो गई।” पुलिस ने हालांकि, इस बात की पुष्टि नहीं की है कि यह आतंकवादी पाकिस्तान प्रशासित कश्मीर से घाटी में घुसपैठ करके आए थे या काफी समय से यहीं रह रहे थे।

पिछले साल 18 सितंबर को, उड़ी में सेना के ब्रिगेड हेडक्‍वार्टर पर आतंकियों ने हमला बोला था। घाटी के सबसे जघन्‍य हमलों में से एक, उड़ी हमले में सेना के 19 जवान मारे गए थे। कैंप के कई बैरक भी आग के हवाले कर दिए गए थे।

कश्‍मीर पुलिस के अनुसार, उन्‍हें रविवार सुबह कलगी गांव में तीन फिदायीन आतंकियों के छिपे होने की सूचना मिली। पुलिस और सेना की एक टीम ने इलाके को घेर लिया मगर आतंकियों ने फायरिंग शुरू कर दी। फोर्स ने जवाब दिया और घंटों मुठभेड़ चलती रही। मुठभेड़ खत्‍म होने तक गांव में छिपे तीन आतंकियों को मार गिराया जा चुका था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.