ताज़ा खबर
 

मदरसों को आतंक की जन्मस्थली बताने पर भड़के उमर अब्दुल्ला, बोले- संघ की शाखा से निकलते हैं धर्मांध लोग

बीजेपी नेता ने मदरसों को आतंक की जन्मस्थली बताया था, जिसके जवाब में उमर अब्दुल्ला ने संघ को लेकर आपत्तिजनक बयान दिया है।

Omar-Abdullahनेशनल कॉन्फ्रेंस नेता और जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला (फोटो- एक्सप्रेस फाइल)

जम्मू-कश्मीर में आतंकी हमले से शुरू हुई अशांति के बाद सियासी गलियारों में भी विवादित बयानों का सिलसिला शुरू हो गया है। नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने बुधवार को (6 मार्च) कहा कि संघ की शाखा से धर्मांध लोग निकलते हैं। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ को लेकर उन्होंने यह बयान बीजेपी नेता कवींद्र गुप्ता को जवाब देते हुए दिया। बता दें कि गुप्ता ने मदरसों को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी।

मदरसों पर यह था कवींद्र का बयानः जम्मू-कश्मीर के पूर्व उप-मुख्यमंत्री और बीजेपी नेता कवींद्र गुप्ता ने कहा था कि मदरसा आतंकियों की जन्मस्थली है। रिपोर्ट्स के मुताबिक गुप्ता ने कहा था, ‘‘बांग्लादेश, अफगानिस्तान समेत कई देशों में संदिग्ध गतिविधियों के चलते मदरसों पर प्रतिबंध लगा दिया है। इसी तर्ज पर जम्मू-कश्मीर में भी आतंक पर लगाम कसनी है तो मदरसों पर प्रतिबंध लगाना पड़ेगा।’’ इसके साथ ही गुप्ता ने राज्य की पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती पर भी हमला बोला था। उन्होंने कहा था कि यदि महबूबा जमात-ए-इस्लामी का समर्थन करें तो उन्हें भी गिरफ्तार किया जाना चाहिए। ऐसे में उमर अब्दुल्ला ने कहा कि संघ की शाखा से कवींद्र जैसे धर्मांध लोग निकलते हैं।

‘यह सरासर मूर्खता और हताशा’: कवींद्र गुप्ता के इस बयान के बाद राज्य की सियासत में जमकर बयानबाजी शुरू हो गई है। नेशनल कॉन्फ्रेंस के मुख्य प्रवक्ता आगा सैयद रुहुल्ला मेहदी ने उनके बयान को ‘सरासर मूर्खता और मानसिक हताशा’ करार दिया। उन्होंने गुप्ता को निशाने पर लेते हुए कहा कि यह बयान ऐसे शख्स की तरफ से आ रहा है, जो संघ से जुड़ा है और आजादी के आंदोलन में उस संगठन की कोई भूमिका नहीं है। बता दें कि 14 फरवरी को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर आतंकी हमले के बाद जम्मू-कश्मीर में अशांति का माहौल है।

Next Stories
1 कैलाश विजयवर्गीय के बेटे ने उड़ाया राहुल गांधी का मजाक, कहा- अब वे पप्पू नहीं, ‘गधों के सरताज’
2 Abhinandan तो वापस आ गए, लेकिन कब छूटेंगे 1971 से पाकिस्तानी जेलों में कैद ‘मिसिंग 54’ भारतीय सैनिक
3 तलाक लिए बिना दूसरी महिला के बच्‍चे का पिता बना आईपीएस अधिकारी, केंद्र ने किया डिसमिस
आज का राशिफल
X