ताज़ा खबर
 

जम्मू-कश्मीर: गुलमर्ग में रोपवे का तार टूटने से गिरा केबिन, मरने वालों की संख्या हुई सात

सूत्रों का कहना है कि फिलहाल सर्विस को बंद कर दिया गया है और बचाव कार्य चलाया जा रहा है।

जम्मू एवं कश्मीर के गुलमर्ग में रविवार को पेड़ गिरने के कारण रस्सी टूट जाने से एक गोंडोला कार सैकड़ों मीटर नीचे जा गिरी, जिसमें दिल्ली निवासी एक परिवार के चार सदस्यों और तीन स्थानीय निवासियों की मौत हो गई। पुलिस सूत्रों ने बताया कि तार टूटने से कई केबल कार हवा में खतरनाक तरीके से लटक गए और कुछ केबल कारें सैकड़ों फुट नीचे जा गिरीं। पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला के अनुसार, दुर्घटना के चलते 15 केबल कारें और उनमें सवार पर्यटक प्रभावित हुए हैं। पुलिस के एक अधिकारी ने कहा, “दुर्घटना में मृत लोगों में एक दंपति और दो बच्चे शामिल हैं।” पुलिस द्वारा जारी बयान में कहा गया है कि राहत एवं बचाव कार्य के लिए बड़ी संख्या में सुरक्षाकर्मियों को घटना स्थल पर भेजा गया है तथा स्थानीय निवासियों की मदद से विभिन्न केबल कारों में फंसे 150 के करीब लोगों को सुरक्षित निकाल लिया गया है। हालांकि बयान में यह नहीं बताया गया है कि सुरक्षित बचा लिए गए लोगों में से कोई घायल भी है या नहीं।

मृतकों की पहचान जयंत अंदरस्कर, उनकी पत्नी मनीषा और उनकी बेटियों अनघा और जाह्नवी के रूप में की गई है। वे दिल्ली में शालीमार बाग के रहने वाले थे। अन्य तीन मृतकों की पहचान मुख्तार अहमद गनी, जावेद अहमद खांडे और फारूक अहमद के रूप में की गई है, जो संभवत: टूरिस्ट गाइड थे। गुलमर्ग केबल कार परियोजना में यह इस तरह का पहला हादसा है।

पूर्व मुख्यमंत्री अब्दुल्ला ने हैरानी जताते हुए कहा, “इतनी तेज हवा के बीच केबल कार का संचालन बंद क्यों नहीं किया गया। यह मानक परिचालन प्रक्रिया का उल्लंघन है। गुलमर्ग से दर्दनाक तस्वीरें आ रही हैं। छुट्टियां मनाने आए परिवार के लिए यात्रा का कितना दुखद अंत है यह। पीड़ित परिवारों के प्रति सहानुभूति मात्र भी पर्याप्त नहीं पड़ रहा।”

Next Stories
1 कश्‍मीर: जिस दिन था बेटे का पहला जन्‍मदिन, उसी दिन हुआ शहीद जाधव का अंतिम संस्‍कार
2 कश्‍मीर: एसआईटी करेगी डीएसपी अयूब पंडित की हत्‍या की जांच, मामले में अब तक 12 में से 5 गिरफ्तार
3 मस्जिद के बाहर डीएसपी मोहम्मद अयूब पंडित की हत्या, अबतक दो लोग गिरफ्तार