ताज़ा खबर
 

Jammu-Kashmir: कश्मीर में नेशनल हाइवे पर फिर पुलवामा जैसे हमले की आशंका, आतंकियों की पाक आर्मी और ISI से मीटिंग की खबर

पाकिस्तानी आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा ने नेशनल हाइवे पर हमले के संकेत भी दिए थे। लश्कर, हिजबुल मुजाहिदीन और जैश-ए-मोहम्मद की पाकिस्तानी सेना और खुफिया एजेंसियों के साथ कथित तौर पर कश्मीर में एक मीटिंग भी हुई है।

Author श्रीनगर | Published on: October 15, 2019 4:06 AM
प्रतीकात्मक तस्वीर, फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

करीब ढाई महीने तक कई तरह के प्रतिबंध झेल चुके जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) पर एक बार फिर पुलवामा जैसा हमला (Pulwama Attack) होने की आशंका जताई जा रही है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक खुफिया एजेंसियों ने इस संबंध में अलर्ट जारी किया है। इसके बाद से ही यहां अतिरिक्त सतर्कता बरती जा रही है। खुफिया एजेंसियों ने सरकारी वाहनों को निशाना बनाए जाने की आशंका जताई है। यह हमला कश्मीर घाटी को देश से जोड़ने वाले हाइवे पर होने की आशंका है।

आतंकियों की पाक आर्मी-ISI से मीटिंगः एएनआई के मुताबिक, ‘स्थानीय लोगों की मदद से कार बम या आईईडी से हमले की साजिश रची जा सकती है।’ पाकिस्तानी आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा ने नेशनल हाइवे पर हमले के संकेत भी दिए थे। लश्कर, हिजबुल मुजाहिदीन और जैश-ए-मोहम्मद की पाकिस्तानी सेना और खुफिया एजेंसियों के साथ कथित तौर पर कश्मीर में एक मीटिंग भी हुई है। इसमें पुलिस के जवानों और नेताओं को निशाना बनाने की साजिश रचे जाने की खबर मिली है।

यह है खुफिया इनपुटः खुफिया सूचना के मुताबिक जैश-ए-मोहम्मद को नेशनल हाइवे पर हमले की जिम्मेदारी मिली है, जबकि लश्कर को सुरक्षा व्यवस्था पर ही हमला करने की जिम्मेदारी मिली है। राज्य में पिछले करीब ढाई महीने से मोदी सरकार के बड़े फैसलों के चलते एहतियातन सुरक्षा व्यवस्था काफी मजबूत थी। पूरे राज्य में और खासतौर से कश्मीर घाटी में सुरक्षा बलों का पहरा था।

गौरतलब है कि इसी साल फरवरी में पुलवामा के अवंतीपुरा में नेशनल हाइवे पर ही एक फिदायीन हमला हुआ था। विस्फोटक से लदी कार सीआरपीएफ के काफिले से जा टकराई थी, जिसमें एक बस के परखच्चे उड़ गए थे और उसमें सवार 39 जवानों समेत 40 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई थी। इस हमले के बाद भारत ने भी पलटवार किया था और पाकिस्तानी जमीन पर पल रहे आतंकी ठिकानों को अंदर घुसकर नेस्तनाबूद किया था। तभी से दोनों देशों के बीच तनाव पहले की तुलना में और बढ़ गया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 J&K: शोपियां में एप्पल ले जा रहे ट्रक ड्राइवर को आतंकियों ने गोलियों से भूना, बदमाशों में एक पाकिस्तानी भी शामिल
2 Jhansi Encounter: पुष्पेंद्र की दादी की मौत, परिजन बोले- नहीं सह सकीं पोते के एनकाउंटर का सदमा