ताज़ा खबर
 

J&K: श्रीनगर एयरपोर्ट पर पूर्व बीजेपी नेता यशवंत सिन्हा को भी रोका, बैरंग भेजा दिल्ली, हुआ बवाल

Jammu kashmir Article-370: दिल्ली से आई एक उड़ान से सिन्हा को उतरते हुए देखकर हरकत में आए हवाईअड्डे के अधिकारी और पुलिस अफसर तत्काल उन्हें वीआईपी लाउंज में लेकर चले गए, फिर दिल्ली वापस भेज दिया।

Author श्रीनगर | Updated: September 18, 2019 4:45 AM
यशवन्त सिन्हा। (पीटीआई फोटो)

Yashwant Sinha Srinagar Airport: जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाए जाने के जारी राजनीतिक बवाल के बीच पूर्व भाजपा नेता यशवंत सिन्हा मंगलवार को श्रीनगर हवाईअड्डे पर पहुंचे लेकिन उन्हें शहर में नहीं जाने दिया गया और उन्हें आखिरी उड़ान से दिल्ली लौटना पड़ा। बता दें कि इससे पहले राहुल गांधी समेत कई और विपक्षी दलों के नेताओं को भी उसी एयरपोर्ट से लौटना पड़ा था।

दिल्ली वापस भेजे गए: यशवंत सिन्हा एयर मार्शल कपिल काक (सेवानिवृत्त) और सामाजिक कार्यकर्ता सुशोभा भावे के साथ मंगलवार शाम को श्रीनगर हवाईअड्डे पहुंचे। दिल्ली से आई एक उड़ान से सिन्हा को उतरते हुए देखकर हरकत में आए हवाईअड्डे के अधिकारी और पुलिस अफसर तत्काल उन्हें वीआईपी लाउंज में ले गये। अधिकारियों को इस बारे में कोई सूचना नहीं थी कि सिन्हा को शहर में प्रवेश की इजाजत है या नहीं।
National Hindi News 17 September 2019 LIVE Updates: 69 के हुए PM मोदी, मुलाकात के लिए दिल्ली आएंगी ममता बनर्जी

अधिकारीयों ने कही यह बात: 81 वर्षीय सिन्हा को विनम्रता से वापसी के लिए कहा गया और उन्हें शहर में प्रवेश की इजाजत नहीं दी गयी जहां पांच अगस्त से संचार नेटवर्क नहीं हैं और पाबंदियां लागू हैं। अधिकारियों के मुताबिक सिन्हा ने अधिकारियों से वह आदेश दिखाने को कहा जिसके तहत उन्हें शहर में प्रवेश की इजाजत नहीं है। उन्होंने दिल्ली नहीं लौटने की बात कही और प्रदेश के अधिकारियों को संदेश दिया कि वह तब तक हवाईअड्डे पर रहेंगे जब तक उन्हें शहर में प्रवेश की अनुमति नहीं दी जाती।

पहले भी कई लोगों को किया गया है मना: राज्य प्रशासन और पुलिस अधिकारियों ने अंतत: सिन्हा के साथ आए लोगों को मना लिया जिसके बाद सिन्हा को अंतिम उड़ान से दिल्ली रवाना किया गया। अन्य दोनों सदस्य श्रीनगर शहर में चले गये। गौरतलब है कि पहले भी कई नेताओं को श्रीनगर में प्रवेश की अनुमति नहीं मिली है और उन्हें हवाईअड्डे से ही दिल्ली लौटना पड़ा है। इनमें कांग्रेस नेता राहुल गांधी, गुलाम नबी आजाद और भाकपा महासचिव डी राजा शामिल हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 लोगों का इलाज करने को महिला स्वास्थ्यकर्मी ने पैदल पार की नदी, बोली- सेवा सबसे बड़ा काम
2 चंडीगढ़: नगर आयुक्त ने नई सड़कें बनाने से किया इनकार, कहा- हमारे पास पैसा ही नहीं
3 उत्तराखंड: बाढ़ से महिला की मौत, श्मशान पहुंचाने के लिए कंधे पर शव रख 14 किमी दूर गए सेना के जवान