ताज़ा खबर
 

कश्मीर में चीन से मदद मांगते नजर आए कश्मीरी लोग, सामने आईं तस्वीरें

घटना शुक्रवार(14 अक्टूबर) की है, लेकिन तस्वीरें रविवार को सामने आई हैं।
Author श्रीनगर | October 16, 2016 14:06 pm
कश्मीर घाटी में दिखाए गए पाकिस्तानी और चीनी झंडे। (Photo-ANI)

कश्मीर के बारामूला में कुछ लोग चीनी और पाकिस्तानी झंडा फहराते हुए नजर आए हैं। कश्मीर घाटी में चीन के झंडे पहली बार फहराए गए हैं। पाकिस्तानी झंडा तो कई बार फहराए गए हैं। घटना शुक्रवार(14 अक्टूबर) की है। लेकिन इसकी तस्वीरें रविवार को सामने आई हैं। तस्वीरे न्यूज एजेंसी एएनआई ने जारी की हैं। इंडियन एक्सप्रेस को मिली जानकारी के मुताबिक, ये झंडे शुक्रवार (14 अक्टूबर) को जुम्मे की नजाज के बाद बारामुला के पुराने शहर वाले इलाके में दिखाए गए। झंड़े दिखाने वाले युवकों ने अपने चेहरे को मास्क से ढका हुआ था। मिली जानकारी के मुताबिक, नमाज खत्म होने के बाद कुछ लोगों ने नारे लगाने शुरू कर दिए। वे लोग चीन के झंडे दिखाते हुए कह रहे थे कि उन्हें चीन से मदद चाहिए। वहां लगभग पांच-छह झंडे देखने को मिले। झंडो पर साफ तौर मैसेज लिखा हुआ है, ‘चीन हमारी मदद करो’। जिन लोगों ने झंडे लहराए उन सभी ने अपना मुंह ढका हुआ था। विरोध कर रहे लोगों ने पुलिस पर पथराव भी किया था। जिनको शांत करने के लिए पुलिस ने आंसू गैस का इस्तेमाल किया था।

वीडियो में देखें- पाकिस्तानी सेना ने फिर किया सीजफायर का उल्लंघन

बता दें, चीन के राष्ट्रपति शी चिनपिंग अभी भारत दौरे पर हैं। वह ब्रिक्स सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए गोवा पहुंचे हैं। वहां पर उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी बातचीत की। इस दौरान मोदी और शी इस बात पर तो एकमत थे कि आतंकवाद एक बड़ी समस्या है। शी जिनपिंग ने यह भी कहा कि चीन हर तरीके के आतंकवाद के खिलाफ है। लेकिन जब मौलाना मसूद अजहर का जिक्र आया तो शी जिनपिंग ने कुछ नहीं कहा। चीन की तरफ से इस बात को लेकर भी कोई इशारा नहीं दिया गया कि वह मौलाना मसूद अजहर का बचाव करना बंद करेंगे।

Read Also:  ब्रिक्स सम्मेलन: आतंकवाद पर पीएम मोदी को मिला पुतिन का साथ, चीन ने फिर किया निराश

गौरतलब है कि आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिद्दीन के कमांडर बुरहान वानी के मारे जाने के बाद से कश्मीर घाटी में तनाव है। पुलिस और आम लोगों के बीच रोजना झड़पे होती रहती हैं। इसमें कई लोगों की जान चली गई और हजारों लोग जख्मी हो गए। जिसमें पुलिसवाले भी शामिल हैं।

Read Also: ब्रिक्स सम्मेलन: शी जिनपिंग के भारत पहुंचते ही शुरू हुआ प्रदर्शन, लगे ‘आजादी’ के नारे

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.